comscore

गैर IAS को IAS का प्रभार: विधायकों की सोनिया गांधी से शिकायत के बाद पंचायत विभाग ने चतुर्वेदी से आजीविका मिशन का प्रभार वापिस लिया

रायपुर, 5 अप्रैल 2021। संसदीय सचिव समेत सत्ताधारी पार्टी के आधा दर्जन विधायकों द्वारा कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखा गया पत्र आखिर रंग दिखाया। पंचायत विभाग ने कदम पीछे खींचते हुए आज राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक अशोक चतुर्वेदी को दिया गया मिशन संचालक का अतिरिक्त प्रभार वापस ले लिया। उन्हें यह प्रभार प्रभार मिशन संचालक कुमार लाल चैहान के निर्वाचन कार्य में ड्यूटी लगाए जाने के कारण सौंपा गया था।
विधायकों ने पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव के पंचायत विभाग पर भ्रष्ट और भाजपा से संबद्ध अधिकारी अशोक चतुर्वेदी को आजीविका मिशन का प्रभार देने पर नाराजगी जताते हुए सोनिया गांधी को पत्र लिखा था। पत्र में कड़े शब्दों का इस्तेमाल करते हुए लिखा गया था कि चतुर्वेदी लगातार राज्य सरकार को कोर्ट-कचहरी में घसीट रहे हैं। ऐसे अधिकारी को संरक्षण देने से मैसेज अच्छा नहीं जा रहा।

IAS के पद पर गैर आईएएस को प्रभार…महिला विधायक ने सोनिया गांधी को लिखी पाती, मंत्री सिंहदेव के पंचायत विभाग को निशाने पर लेते लिखा…सरकार को लगातार कटघरे में खड़े करने वाले भ्रष्ट और बीजेपी से जुड़े अधिकारी को संरक्षण दिया जा रहा

चतुर्वेदी को प्रभार का यह आदेश बीते तीस मार्च को जारी किया गया था। इस प्रभार को लेकर शिकायती पत्र सोनिया गांधी को भेजा गया था। पाँच अप्रैल को अस्थायी रुप से दिया गया अतिरिक्त प्रभार वापस लिए जाने के आदेश जारी हो गए।
हालाँकि इस आदेश के पीछे अधिकृत रुप से कोई कारण नहीं बताया गया है। पर इतना जरुर कहा गया है कि अतिरिक्त प्रभार दिया गया था जिसे वापस ले लिया गया है।

Spread the love