मेहनतकश हाथों को मिला स्वरोजगार, महिला संगठनों ने 41 हजार रूपये किया दान…

सूरजपुर 20 मई 2020. कोरोना वायरस से सुरक्षा एवं रोकथाम को लेकर लॉकडाउन में  घरेलु कामकाजी महिलाओं के ग्राम संगठन की सदस्यों द्वारा इस अवधि में सुरक्षागत् मानकों के पालन करते हुए मास्क, सेनिटाईजर सहित अन्य जरूरत की सामग्री उपलब्धता निरंतर करने से जिले में कमी नहीं हो पाई। इसके अलावा अपने घरों की ओर लौट रहे श्रमिकों व जरूरतमंदो को पैकेट में भोजन की उपलब्धता कराने वाली महिलाएॅ कोरोना फाईटर के रूप में अपनी सहभागिता जिला प्रषासन की टीम के साथ कंधे से कंधा मिलाकर दे रही है।
इसी क्रम में आज महिला ग्राम संगठन की सदस्यों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के  आव्हान पर इस महामारी के दौरान लॉकडाउन में राहत एवं बचाव कार्यो में आर्थिक मदद के लिए कलेक्टर दीपक सोनी से मुलाकात कर सहयोग राषि बतौर 41 हजार रूपये मुख्यमंत्री सहायता राहत कोष में दान किया है। महिलाओं के इस कदम की सराहना करते हुए कलेक्टर सोनी ने सभी सदस्यों का हौसला अफजाई कर सहायता राशि दान करने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया है। ज्ञातव्य है कि सुराजी गांव योजना की परिकल्पना को साकार करने के लिए कलेक्टर दीपक सोनी के द्वारा एनआरएलएम व अन्य विभागों के माध्यम से घरेलु कामकाजी महिलाओं को उनके ही गांव में स्वरोजगार के अवसरों से जोड़ने के लिए प्रशिक्षण दिलाकर विभिन्न उत्पादों का निर्माण से जोड़ा गया है। वर्तमान में इन महिला संगठन की सदस्यों ने अपनी मेहनत व जिला प्रशासन के निरंतर निगरानी में एक सफल उद्यमी के रूप में उभर कर सामने आई हैं।

इस दौरान भटगांव विधायक पारस नाथ राजवाड़े, वनमण्डलाधिकारी जे.आर.भगत, अपर कलेक्टर एस.एन.मोटवानी की उपस्थिति एवं जिला मिशन प्रबंधक श्री ज्ञानेन्द्र सिंह के नेतृत्व में जिले के भवानी महिला ग्राम संगठन केषवनगर, मीठी महिला ग्राम संगठन कुंजनगर, छत्तीसगढ़ महतारी महिला ग्राम संगठन गोटगवां, मॉ महामाया महिला ग्राम संगठन भैयाथान, भूमि महिला ग्राम संगठन देवनगर, उजाला महिला ग्राम संगठन रघुनाथपुर, शक्ति महिला ग्राम संगठन ओड़गी, आदर्श महिला ग्राम संगठन कुरुवां, उजाला महिला ग्राम संगठन शिवनंदनपुर, शिवशक्ति महिला ग्राम संगठन केनापारा, सूरज महिला ग्राम संगठन पार्वतीपुर, जागृति महिला ग्राम संगठन मदनपुर ने जिला कार्यालय पहुॅच कर सहायता राशि प्रदान किया है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.