अंबिकापुर क्वारनटाईन सेंटर में श्रमिक ने लगाई फाँसी.. प्रदेश में क्वारनटाईन सेंटर में नवमीं मौत

अंबिकापुर, 25 मई 2020। लुंड्रा स्थित क्वारनटाईन सेंटर से ज़िला अस्पताल के क्वारनटाईन सेंटर लाए गए युवक ने वार्ड में फाँसी लगा ली। यह युवक श्रमिक था जो कि सीधी और दिल्ली से लौटा था। युवक को पेट दर्द की शिकायत पर ज़िला अस्पताल के क्वारनटाईन सेंटर शिफ़्ट किया गया था। शाम चार बजे के आसपास यह मरीज़ फाँसी लगे हालत में पाया गया है।
कोविड19 की प्रारंभिक जाँच में युवक की रिपोर्ट निगेटिव आई थी। इसकी लैब रिपोर्ट प्रतीक्षित थी। युवक को लेकर मिली जानकारी के अनुसार वह लुंड्रा ब्लॉक के झेराडीह गाँव का रहने वाला था।

युवक के फाँसी लगाए जाने के कारण स्पष्ट नहीं है। दावा है कि आज ही क़रीब दो बजे युवक ने चिकित्सकों से कहा था कि, उसे अब ठीक लग रहा है। ज़िला अस्पताल का टीबी वार्ड क्वारनटाईन सेंटर के रुप में तब्दील किया गया है।युवक ने जब यहाँ फाँसी लगाई तब वह अकेला था। प्रदेश में इस मौत को मिलाकर क्वारनटाईन सेंटर में नौ मौतें हो चुकी हैं।

ब्यौरा निम्नलिखित है –
1-14 मई 2020: सारंगढ़ क्वारंटिन सेंटर-अर्जुन निषाद, 27 साल, फांसी से मौत.
2-17 मई 2020: किरना, मुंगेली क्वारंटिन सेंटर-पुणे से पैदल लौटे 31 साल के योगेश वर्मा की सांप काटने से मौत.
3-18 मई 2020: परसवानी क्वारंटिन सेंटर, बालोद-सूरज यादव,29 साल, फांसी से मौत.
4-18 मई 2020: सीताकसा क्वारंटिन सेंटर, राजनांदगांव-बुधारु राम, 28 साल, सांप काटने से मौत
5- 19 मई 2020: सेमली लेंजुवा पारा क्वारंटिन सेंटर, बलरामपुर-ड्यूटी कर रहे शिक्षक सियारत भगत की मौत
6- 20 मई 2020: सेमरिया क्वारंटिन सेंटर, बेमेतरा- राजू ध्रुव 35 साल की मौत.

7- 24 मई 2020: पुणे से लौटे युवक की तबीयत बिगडी, मस्तुरी ब्लाक के क्वारंटाइन सेंटर में मौत…

8- 25 मई 2020:  अंबिकापुर, लुंड्रा स्थित क्वारनटाईन सेंटर  के वार्ड में श्रमिक युवक ने फांसी लगा ली, दिल्ली से लौटा था.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.