काम की खबर: एसबीआई के बाद अब इस बैंक ने कर्ज किया सस्ता, होम और ऑटो लोन लेने वालों को फायदा

नईदिल्ली 10 फरवरी 2020। भारतीय रिजर्व बैंक की मौद्रिक नीति की घोषणा के एक दिन बाद भारत के सबसे बड़े बैंक SBI ने अपनी ऋण दरों में कटौती की थी वहीं अब सार्वजनिक क्षेत्र के बैंक ऑफ बड़ौदा (बीओबी) ने अपनी सीमांत लागत आधारित ब्याज दरों (एमसीएलआर) में सोमवार को 0.10 प्रतिशत तक कटौती की घोषणा की है।  नई दरें 12 फरवरी से लागू होंगी।  बैंक की इस कटौती से कर्ज लेने वाले नए ग्राहकों के लिए आवास , वाहन और अन्य ऋण सस्ते होंगे। 

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

रिजर्व बैंक (RBI) की मौद्रिक नीति समीक्षा के कुछ दिन बाद बैंक ऑफ बड़ौदा (BOB) ने एमसीएलआर में कटौती की है. आरबीआई ने रेपो दर को 5.15 फीसदी पर बरकरार रखा, लेकिन एक लाख करोड़ तक की प्रतिभूतियों को रेपो दर पर खरीदने की घोषणा की है. इससे बैंकों के लिए फंड की लागत कम होगी BOB ने एक महीने के कर्ज के लिए एमसीएलआर को 0.05 प्रतिशत कम करके 7.55 प्रतिशत कर दिया है जबकि एक दिन, तीन महीने और छह महीने की एमसीएलआर में 0.10 प्रतिशत की कटौती की गई है

MCLR वह दर होती है जिससे नीचे पर बैंक लोन नहीं दे सकता.>> जाहिर है इसके कम हो जाने से अब कम दर पर बैंक लोन देने में सक्षम हो जाएगा जिससे हाउस लोन से लेकर वीकल लोन तक आपके लिए सब के सब सस्ते हो सकते हैं
>> लेकिन यह फायदा नए ग्राहकों के साथ साथ सिर्फ उन्हीं ग्राहकों को मिलेगा जिन्होंने अप्रैल 2016 के बाद लोन लिया है क्योंकि उसके पहले लोन देने के लिए तय मिनिमम रेट बेस रेट कहलाती थी. यानी इससे कम दर पर बैंक वोन नहीं दे सकते थे

बीओबी ने एक महीने के कर्ज के लिए एमसीएलआर को 0.05 प्रतिशत कम करके 7.55 प्रतिशत कर दिया है जबकि एक दिन , तीन महीने और छह महीने की एमसीएलआर में 0.10 प्रतिशत की कटौती की गई है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.