npg

Ex CM विजय रुपाणी क्यों कह रहे हैं मैं CM था, मैं CM हूँ और आगे भी CM रहूँगा.. सियासत में रुपाणी की यह बात गहरे पानी पैठ क्यों मानी जा रही है .. पढिए यह खबर

* गांधीनगर,15 सितंबर 2021। और आखिरकार बतौर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का अध्याय गुजरात से समाप्त हो गया है। लेकिन सादगी सरलता सहजता और सौम्यता के साथ साथ संगठन के प्रति किसी आदर्श की अनुशासित विजय रुपाणी अगर ये कहते सुनाई दें कि *”मैं कल भी सीएम था.. मैं आज भी सीएम हूँ और कल भी […]

Spread the love

Ex CM विजय रुपाणी क्यों कह रहे हैं मैं CM था, मैं CM हूँ और आगे भी CM रहूँगा.. सियासत में रुपाणी की यह बात गहरे पानी पैठ क्यों मानी जा रही है .. पढिए यह खबर
X

*

गांधीनगर,15 सितंबर 2021। और आखिरकार बतौर मुख्यमंत्री विजय रुपाणी का अध्याय गुजरात से समाप्त हो गया है। लेकिन सादगी सरलता सहजता और सौम्यता के साथ साथ संगठन के प्रति किसी आदर्श की अनुशासित विजय रुपाणी अगर ये कहते सुनाई दें कि *”मैं कल भी सीएम था.. मैं आज भी सीएम हूँ और कल भी सीएम रहूंगा”* तो लोगों का चौंकना स्वाभाविक है। पूर्व मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने यह बयान कल दिया है। इसके ठीक पहले उनकी बिटिया ने एक ख़त लिख विजय रुपाणी को लेकर मीडिया के एक समुह में लिखी बातों का विस्तार से जवाब दिया था।
गुजरात के पांच वर्ष तक मुख्यमंत्री रहे विजय रुपाणी ने कल कहा
*”मैं कल भी सीएम था, आज भी सीएम हूँ और कल भी सीएम रहूंगा”*
और अपनी इस बात को विस्तार देते हुए विजय रुपाणी ने आगे कहा
*” CM था हूं और रहूंगा क्योंकि CM का मतलब कॉमन मेन होता है.. एक सामान्य व्यक्ति मैं हमेशा रहा हूँ.. अपनी पार्टी के प्रति समर्पित एक सामान्य कार्यकर्ता”*
विजय रुपाणी ने केंद्र में अपनी भुमिका की संभावनाओं पर मुस्कुराते हुए जवाब दिया
*” मैंने कहा न.. पार्टी का सामान्य कार्यकर्ता हूँ जो निर्देश देगी वो सर माथे पर.. वे हमारी सबसे छोटी इकाई बूथ पर काम करने कहेंगे.. मैं वहाँ काम करुंगा..”*
*सीएम* पद को सहजता से छोड़ने वाले और और *सीएम* शब्द के शायद सही मायने बताने वाले विजय रुपाणी की यह बात उन्होंने खुद को सामने रख सही साबित तो कर दी है, लेकिन राजनीति में ऐसा करने वाले विजय रुपाणी शायद अपवाद ही साबित होंगे, जबकि यह सही है कि ऐसे सभी होने चाहिए।

Next Story