कंगना रनौत को ट्वीट करने के कुछ घंटे बाद ही अमित जोगी को क्यों मांगनी पड़ी माफी…..अमित जोगी के ट्वीट को कंगना ने रिट्वीट भी किया था….क्या था पूरा मामला जिसके बाद अमित ने कहा- “हाथ जोड़कर माफ़ी माँगता हूँ”

रायपुर 10 सितंबर 2020। एक्ट्रेस कंगना रनौत को वीरांगना कहने के कुछ घंटे बाद ही अमित जोगी ने सभी से माफी मांगी है। आज ही अमित जोगी ने कंगना रनौत को वीरंगना की संज्ञा देते हुए उनको साहस को सलाम किया था। दरअसल महाराष्ट्र में कंगना और शिवसेना के बीच छिड़ी जंग के बीच आज अमित जोगी ने ट्वीट कर कंगना रनौत के लिए लिखा था…

इस ट्वीट के तुरंत बाद कंगना ने भी रिट्वीट कर अमित जोगी के ट्वीट के लिए आभार जताया था।

लेकिन इस ट्वीट के कुछ देर बाद ही कंगना ने आरक्षण के एक मुद्दे पर ट्वीट कर दिया।

Image may contain: text that says 'Tweet Kangana Ranaut @KanganaTeam Replying to @ShekharGupta and @Profdilipmandal Cast system has been rejected by modern Indians, in small towns every one knows it's not acceptable anymore by law and order its nothing more than a sadistic pleasure for few, only our constitution is holding on to it terms of reservations Let Go Of It, Lets Talk About It 8:10 PM 23/08/20 Twitter for iPhone 2,748 Retweets 1,281 Quote Tweets 13.5K Likes'

कंगना के इस ट्वीट के बाद अमित जोगी ने उन्हें दी वीरांगना की उपमा के लिए सभी से हाथ जोड़कर माफी मांगी, साथ ही उन्हें छत्तीसगढ़ आने का न्योता भी दिया। अमित जोगी ने अपने पोस्ट में कहा है कि …

मैं @KanganaTeam के इस विचार से बिल्कुल सहमत नहीं हो सकता कि आरक्षण की अब देश को कोई आवश्यकता नहीं है।उनके इस बेहद आपत्तिजनक और संकीर्ण मानसिकता वाले ट्वीट की जानकारी मुझे अपने उस ट्वीट के बाद मिली जिसमें मैंने उन्हें एक महिला होने के नाते पूरे सिस्टम से लड़ने के लिए वीरांगना कह डाला जबकि हक़ीक़त यह है कि वे वास्तव में तब वीरांगना कहलाने के लायक़ होंगी जब वे जाति आधारित उत्पीड़न की वास्तविकता को स्वीकार करते हुए दलितों, आदिवासियों, पिछड़ा वर्ग और ग़रीबों के ख़िलाफ़ लगातार चले आ रहे मनुवादी शोषण के ख़िलाफ़ अपनी आवाज़ बुलंद करेंगी। मेरे उपरोक्त ट्वीट में मनुवादी सोच से ग्रसित कंगना के लिए वीरांगना शब्द के उपयोग के लिए मैं आप सबसे हाथ जोड़कर माफ़ी माँगता हूँ।साथ ही जातिगत शोषण की हक़ीक़त को देखने मैं @KanganaTeam को उनके मुंबई और मनाली के महलों निकलकर,छत्तीसगढ़ आने का निमंत्रण भी देता हूँ।🙏

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों से कंगना के मुद्दे पर देश की राजनीति गरमायी हुई है। सुशांत केस में नेपोटिज्म से शुरू हुआ विवाद ड्रग स्कैंडल और अब महाराष्ट्र अस्मिता तक जा पहुंचा है। कंगना पर संजय राउत के बयान पर सुलगी सियासत में जब से BMC की तोड़फोड़ ने तड़का लगाया है, तभी से शिवसेना और कांग्रेस बनाम ये लड़ाई कंगना और बीजेपी की बन गयी है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.