fbpx

….जब ASP और CEO सहित अफसरों की टीम करने लगी खेतों में रोपाई……गांव से गुजर रहे अफसरों के इस अंदाज ने जीता ग्रामीणों का दिल….ASP बोले- “हमन भी गांव से हन, खेत-खार भी हवय….

गरियाबंद 13 जुलाई 2020। छुरा के कसही-बहरा गांव में अफसरों को खेतों में थरहा-निंदाई करते जिस किसी ने भी देखा, हैरान रह गया। दरअसल अफसरों की टीम आज दोपहर जब गांव से गुजर रही थी, तो सड़क किनारे खेतों में रोपा चल रहा था। कुछ महिला इस दौरान कृष्ण कुमार के खेतों में निंदाई कर रही थी। अफसरों को ये मौका ग्रामीणों व प्रशासन के बीच रिश्तों को मजबूत करने का लगा…फिर क्या था, आनन-फानन में एडिश्नल एसपी सुखनंदन राठौर….जनपद CEO रूचि शर्मा, नायब तहसीलदार वसीम सिद्दीकी, थाना प्रभारी राजेश जगत सहित अन्य अधिकारियों ने अपने जूते उतारे और तुरंत खेतों में उतर आये।

इधर, बड़े अफसरों को खेतों में देख काम कर रही महिलाएं सहम गयी, लेकिन जल्द ही अधिकारियों के आत्मीय व्यवहार ने महिलाओं को अपनेपन का अहसास करा दिया। एडिश्नल एसपी सुखनंदन राठौर ने छत्तीसगढ़ी में बात कर कहा कि…..“हमन भी गांव से हन, खेत-खार भी हवय, अब पढ़ लिखके अधिकारी बन गे हौं”जिसके बाद महिलाएं थोड़ी सहज हुई।

इस दौरान सीईओ जनपद रूचि शर्मा ने महिलाओं को कहा कि वो अपने बच्चों को पढ़ाने पर भी ध्यान दें…उन्होंने महिलाओं को कहा कि अगर और कोई भी समस्या हो तो मुझसे बेझिझक मिल सकते हैं।
पुलिस विभाग, पंचायत विभाग, राजस्व विभाग के अधिकारियों को अपने मध्य पाकर ग्रामीणो में हर्ष व्याप्त थी, पहले तो उन्हें डर लगा कि कौन आ गए हैं, लेकिन बातचीत से माहौल सामान्य हो गया। अधिकारियों ने बताया कि ग्रामीण लोगों के पास जाकर उनके सुख दुःख जानने से वे निर्भीक होकर अपनी समस्या बता पाते हैं और सकारात्मक वातावरण बन पाता है।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.