….जब मुख्यमंत्री नक्सलियों के गढ़ में सड़क मार्ग से घुसे…..50 किलोमीटर का सफर तय कर लिया विकास कार्यों का जायजा….बस्तर की बदलती तस्वीर देखी

रायपुर, 31 जनवरी 2021। बस्तर संभाग के अति संवेदनशील क्षेत्रों में आज विकास की नई बयार बह रही है। अति संवेदनशील जिलों में से एक दंतेवाड़ा जिले की बदलती तस्वीर देखने मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज करीब 50 किलोमीटर का रास्ता सड़क मार्ग से तय कर विभिन्न विकास कार्यों व नवाचार का जायजा लिया।

मुख्यमंत्री श्री बघेल अपने 2 दिवसीय दन्तेवाड़ा जिले के प्रवास के दौरान आज पहले दिन दंतेवाड़ा जिले के गीदम स्थित हेलीपेड से उतरकर हारम स्थित डेनेक्स (दन्तेवाड़ा नेक्स्ट) का शुभारंभ किया और रेडीमेड गारमेंट फैक्ट्री में महिला समूहों द्वारा तैयार किए जा रहे रेडीमेड वस्त्रों की सिलाई सहित फैक्ट्री में उपलब्ध सुविधाओं का अवलोकन किया।

इसके उपरांत वे सड़क मार्ग से होते हुए ग्राम गामावाड़ा के देवगुड़ी में सौंदर्यीकरण एवं जीर्णाेंद्धार का शुभारंभ किया। उन्होंने वहां समाज प्रमुखों के साथ भोज में शामिल हुए। इसके बाद वे सड़क मार्ग से वे पातररास पहुँचे जहाँ सर्व छत्तीसगढि़या समाज एकता परिसर का शिलान्यास किया। बघेल पातररास के उपरांत जिला मुख्यालय के हाईस्कूल मैदान में आयोजित आमसभा में शामिल हुए।

Spread the love