npg

रमन सिंह की टिकिट पर क्या बोले CM भूपेश बघेल कि बृजमोहन को कहना पड़ा…कांग्रेस पहले अपना घर संभाले, 70 विधायक होने के बाद भी सरकार ठप्प हो गई है

रायपुर, 20 सितंबर 2021। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने में अभी करीब सवा दो साल बाकी हैं। लेकिन अभी से सूबे की सियासत में ये सवाल तैरने लगा है कि किसका टिकट कटेगा? ये सवाल तब और सुर्खियों में आ गया, जब आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने खुद ये कहा कि भाजपा में सबका टिकट […]

Spread the love

रमन सिंह की टिकिट पर क्या बोले CM भूपेश बघेल कि बृजमोहन को कहना पड़ा…कांग्रेस पहले अपना घर संभाले, 70 विधायक होने के बाद भी सरकार ठप्प हो गई है
X

रायपुर, 20 सितंबर 2021। छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव होने में अभी करीब सवा दो साल बाकी हैं। लेकिन अभी से सूबे की सियासत में ये सवाल तैरने लगा है कि किसका टिकट कटेगा? ये सवाल तब और सुर्खियों में आ गया, जब आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने खुद ये कहा कि भाजपा में सबका टिकट कटने वाला है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के टिकट भी खतरे में बता दी। उन्होंने कहा कि पार्टी में रमन सिंह की कोई हैसियत नहीं बची है। हम आज भी उनको नेता मानते हैं, लेकिन उनके लोग ही उन्हें नेता नहीं मानते। मुख्यमंत्री के इस बयान पर पलटवार करते हुए भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा कि मुख्यमंत्री को भाजपा के बारे में बयान देने का अधिकार नहीं है। पहले वे खुद अपनी पार्टी को संभालें, क्योंकि 70 विधायकों वाली पार्टी अस्थिर है, सरकार ठप्प हो गई है। अब सवाल ये है कि टिकट कटने का सवाल ही क्यों? दरअसल, माना जा रहा है कि भाजपा हाईकमान लोकसभा की तर्ज पर सभी सीटिंग विधायकों की टिकट काटकर नए चेहरों को मौका दे सकती है। 15 साल बाद कुर्सी से बाहर हुई भाजपा जीत के लिए चिंतन-मंथन कर रही है। मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सियासी दांव उलझ न जाए, शायद इसलिए प्रदेश प्रभारी डी पुरेंदश्वरी कह चुकी है कि पार्टी चेहरा नहीं विकास के मुद्दे पर लड़ेगी।

Next Story