मौसम ALERT: गर्मी से मिलेगी राहत, मौसम विभाग ने इन राज्यों में जारी किया बारिश का अलर्ट… 1 जून तक केरल पहुंचेगा मानसून

नईदिल्ली 28 मई 2020. बंगाल की खाड़ी में 17 मई से स्थिर पड़ा मानसून फिर सक्रिय हो गया है। मौसम विभाग ने कहा है कि 31 मई से चार जून के बीच अरब सागर में बनने वाले निम्न दबाव क्षेत्र में मानसून को जबरदस्त सक्रियता मिलेगी। इससे यह एक जून तक केरल में दस्तक दे सकता है। हालांकि, मौसम विभाग के मुताबिक, आने वाले कुछ दिनों में मौसम बिगड़ सकता है।

देखा जाए तो बुधवार रात से ही ठंड़ी हवाएं शुरू हो गई थी। जहां गुरुवार की सुबह मौसम एक दम खुल गया और धूप का नामोनिशान नहीं है। महीने की 20 तारीख के बाद से ही मौसम गर्म होना शुरू हो गया था। इसके बाद देशवासी बारिश होने का मौसम सुहाना होने के ही इंतजार में थे। अब भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने आने वाले पांच दिनों के लिए मौसम खराब होने की चेतावनी जारी की है। विभाग हालांकि, पहले मानसून के देरी से केरल पहुंचने की आशंका जता चुका है। मौसम विभाग ने कहा है कि मानूसन दक्षिण अंडमान सागर में सक्रिय होते हुए मालदीव के कुछ हिस्सों में छा गया है। अगले 48 घंटों में यह मालदीव को भिगोते हुए आगे बढ़ेगा। इस दौरान अरब सागर में बन रहे निम्न दबाव क्षेत्र से इसे फायदा होगा और एक जून तक यह केरल में दस्तक दे देगा।

मौसम विभाग के मुताबिक अरब सागर में निम्न दबाव क्षेत्र और कश्मीर के ऊपर एक पश्चिमी विक्षोभ के परिणामस्वरूप उत्तर भारत में अगले दो-तीन दिन में तापमान में तीन से चार डिग्री सेल्सियस तक की कमी आ सकती है। उत्तर भारत इस समय गर्मी से तप रहा है। कई इलाकों में तापमान 45 डिग्री सेल्सियस से ऊपर जा चुका है।

IMD के मुताबिक, असम-मेघालय और नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम-त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। वहीं, दक्षिण आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, पुडुचेरी-कराईकल, केरल-माहे, अरुणाचल प्रदेश, पश्चिम बंगाल-सिक्किम और अंडमान-निकोबार द्वीप समूह के अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा होने की संभावना है। इसके अलावा बताया गया कि आने वाले कुछ दिन तक पश्चिम राजस्थान के कुछ हिस्सों में और दक्षिण हरियाणा और दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और विदर्भ में गर्म हवाओं से राहत रहेगी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.