VIDEO : शिक्षाकर्मियों को न्यायालय जाने के लिए कोसने वाले खुद पहुंच गए न्यायालय….. हाईकोर्ट की दहलीज पर पहुंच कर कहा सरकार कर रही है अन्याय…. शिक्षक भर्ती को लेकर बढ़ी याचिकाओं की संख्या !

रायपुर 18 जनवरी 2020।  नियमित शिक्षक भर्ती को लेकर दायर होने वाले याचिकाओं की संख्या एक बार फिर बढ़ने वाली है और सबसे बड़ी बात यह है कि इस बार याचिका वह लोग दायर कर रहे हैं जिन्होंने अभी तक केवल और केवल नियमित शिक्षक भर्ती के खिलाफ याचिका दायर करने वालों को पानी पी पीकर कोसा है ।

छत्तीसगढ़ प्रशिक्षित डीएलएड/बीएड संघ के प्रदेश सचिव सुशांत धराई के नेतृत्व में आज शिक्षाकर्मियों का जनसमूह उच्च न्यायालय बिलासपुर पहुंचा था और न्यायालय में याचिका दायर करने के लिए उनके द्वारा एक कदम और आगे बढ़ा दिया गया है तथा दो-चार दिनों के अंदर याचिका दायर होने की बात मीडिया के सामने कही गई है।

उनका विरोध नियमित शिक्षक भर्ती में सरगुजा बस्तर संभाग समेत कोरबा जिले में स्थानीय भर्ती किये जाने को लेकर है और उनका कहना है कि शासन भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के बाद इस प्रकार का नियम लाकर उनके साथ अन्याय कर रही है जिसके खिलाफ वह न्यायालय की शरण में जा रहे हैं और उन्हें भरोसा है कि न्यायालय से उन्हें इंसाफ मिलेगा अब न्यायालय से दोनों पक्षों में किसे इंसाफ मिलता है और किसके साथ न्याय होता है वह तो बाद में पता चलेगा लेकिन अभी तक नियमित शिक्षक भर्ती को लेकर दायर की गई याचिकाओं में इजाफा अवश्य हो गया है ।

इधर संघ के सचिव द्वारा केस दायर को करने को लेकर संघ के ही उन तमाम बेरोजगारों में रोष व्याप्त है जिन्हें स्थानीय भर्ती से लाभ होना है और जिन्होंने अभी तक संघ की हर लड़ाई में साथ दिया है उनका स्पष्ट कहना है कि कोई कितना भी प्रयास कर ले भर्ती होकर रहेगी साथ ही भर्ती प्रक्रिया को लेट करने की ओर नया कदम बढ़ाने को लेकर भी उनकी नाराजगी है और वह इसका खुलकर विरोध कर रहे हैं, यही नहीं बेरोजगारों के संघ में भी अब कई फाड़ हो चुका है । इधर एक बार फिर नई भर्ती को लेकर यह चर्चा का विषय बन चुका है कहीं न्यायालय में बार-बार दायर हो रही याचिकाए पूरे प्रक्रिया को लेट तो नही करा देगी ।

Spread the love