VIDEO: दुर्ग कलेक्टर की इस दरियादिली पर आप भी कह उठेंगे वाह…वाह ! …..बुढ़ी अम्मा जल्दी घर भेजने के लिए खुद ही खरीद ली उसकी पूरी सब्जियां…. दिल छू लेने वाले नजारे देख पुलिसकर्मी भी बजाने लगे ताली

दुर्ग 7 जुलाई 2020। कोरोना संकट के इस दौरान में डाक्टर देवदूत बनकर सामने आ रहे हैं…तो वहीं पुलिस-प्रशासन की नेकदिली में लोग फरिश्ता का चेहरा देख रहे हैं। यूं तो हर दिन देश दुनिया से पुलिस-प्रशासन की दरियादिली के किस्से सामने आ रहे हैं…उसी कड़ी में दुर्ग से दिल छू लेने वाली तस्वीर सामने आयी है।

दरअसल हुआ यूं कि लॉकडाउन में प्रशासनिक तैयारी को परखने के लिए कलेक्टर अंकित आनंद और एसपी अजय यादव निकले थे। इसी दौरान जब पुलिस प्रशासन की टीम शनिचरी बाजार पहुंची, तो वहीं एक बुढ़ी अम्मा सब्जी बेचती दिख रही है। तय वक्त के बाद भी बुढ़ी अम्मा सब्जी बेच रही थी, लिहाजा कलेक्टर अंकित आनंद की नजर उन पर पड़ गयी। अंकित आनंद उस महिला की तरफ बढ़े तो एसपी अजय यादव और उनकी टीम भी उस ओर बढ़ चली।

अचानक से पुलिस वालों और अधिकारियों को अपनी तरफ आता देख महिला बुरी तरह डर गयी। आने के बाद कलेक्टर अंकित आनंद ने बड़े ही आत्मीयता से महिला से कहा कि कोरोना की वजह से वजह से लॉकडाउन चल रहा है…और वो अब इस तरह से सब्जी नहीं बेच सकती। कलेक्टर ने उन्हें वहां से जाने को कहा तो महिला पूरी तरह से निराश हो गयी।

इधर कलेक्टर ने जब अम्मा के मुरझाये चेहरे को देखा तो तुरंत उसकी परेशानी समझ ली और फिर तुरंत अपने पॉकेट से 200 रुपये निकालकर महिला को दिये और बोले- मैं तुम्हारी सारी सब्जी खरीद लेता हूं, अब आप यहां से तुरंत घर चली जाओ। कलेक्टर ने जैसे ही पैसे थमाये, अम्मा के चेहरे पर खुशी का ठिकाना नहीं रहा। कलेक्टर ने सब्जी वाली से सारी भाजी खरीद ली और घर भेज दिया। कलेक्टर की इस दरियादिली का मौजूद पुलिसकर्मी और अधिकारी भी कायल हो गये…और वहीं कलेक्टर के सम्मान में तालियां बजानी शुरू कर दी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.