VIDEO : भीमा मंडावी नहीं…छविंद्र कर्मा को उड़ाना था नक्सलियों को …. लौटने में देरी की वजह से नक्सलियों को उनके नेताओं ने दिया था आर्डर….छविंद्र नहीं तो भीमा को ही उड़ा दो

दंतेवाड़ा 17 मार्च 2020। .…तो क्या श्यामगिरी में नक्सलियों के निशाने पर भीमा मंडावी नहीं छविंद्र कर्मा थे ?….खुद छविंद्र कर्मा ने इस बाबत खुलासा किया है कि उनके लौटने में देरी की वजह से नक्सलियों ने भीमा मंडावी को उड़ा दिया। IED को उनके लिए लगाया गया था। आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव के ठीक पहले दंतेवाड़ा के तत्कालीन विधायक भीमा मंडावी को 9 अप्रैल 2019 में नक्सलियों ने ब्लास्ट में उड़ा दिया था।

छविंद्र कर्मा के मुताबिक वो 9 अप्रैल को श्यामगिरी के रास्ते से आने वाले थे, लेकिन उस कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। छविंद्र नकुलनार से श्यामगिरी, गोंगपाल होते हुए पालनार जाना था, लेकिन वो उस रास्ते को बदलकर वो गोंगपाल से सीधे पालनार गये। इसकी जानकारी नक्सलियों को मिल गयी थी, लेकिन नक्सलियों को ये जानकारी थी कि वो श्यामगिरी के रास्ते से ही वापस लौटेंगे।

इसी बीच श्यामगिरी के रास्ते पर भीमा मंडावी दिखायी पड़े, तो श्यामगिरी के मेले में जा रहे थे। लिहाजा नक्सलियों ने अपने शीर्षस्थ नेताओं से बात की..उन्हें बताया कि छविंद्र कर्मा को अभी आने में देरी है, अभी भीमा मंडावी इस रास्ते पर हैं, क्या करें। नक्सलियों को उनके लीडर ने भीमा मंडावी को ब्लास्ट से उड़ाने की इजाजत दे दी….जिसके बाद नक्सलियों ने भीमा मंडावी की गाड़ी को उड़ा दिया।

Spread the love