VIDEO: लेमरु मसला.. सिंहदेव ने पूछा वन विभाग से – “वन विभाग कब से ग्रामसभा कराने लगा.. यह पंचायत विभाग का काम है .आप लोग कैसे कर रहे हैं..” बोले – मुझे सरकार का हिस्सा मत मानिए.. मैं केवल अपनी जनता का हिस्सा हूँ..”

अंबिकापुर,15 अक्टूबर 2020। लेमरु प्रोजेक्ट के विस्तार में सरगुजा के 39 गाँव के शामिल होने के प्रस्ताव पर ग्राम सभा कराने की वन विभाग की क़वायद पर क्षेत्रीय विधायक और स्वास्थ्य तथा पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव वन विभाग पर बरस पड़े। सिंहदेव ने ग्रामीणों से बात करते हुए उन्हें फिर आश्वस्त किया कि, यदि वे शामिल नहीं होना चाहते तो कोई ताक़त उन्हें विवश नहीं कर सकती।

स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव ने कहा-
“वन विभाग कैसे ग्रामसभा करा रहा है, यह पंचायत विभाग का काम है. हमारे विभाग ने कहा नही, हमें जानकारी नही, कलेक्टर तो भी पता नहीं.. CEO ने भी नहीं कहा..वन विभाग की अधिकारिता ही नहीं है.. पंचायत का काम क्या वन अमला करेगा ?”

विदित हो स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव बीते दो दिनों से क्षेत्र के दौरे पर हैं। उदयपुर इलाक़े के ग्रामीणों ने उनसे शिकायत की थी कि, वन विभाग का अमला दबाव बनाकर ग्रामसभा से प्रस्ताव माँग रहा है। उदयपुर मंत्री सिंहदेव का निर्वाचन क्षेत्र है। मंत्री सिंहदेव ने दो दिन पहले भी लेमरु अभ्यारण्य में उदयपुर क्षेत्र के गाँव को जोड़े जाने पर तीखी नाराज़गी जताई थी।
आज जबकि मंत्री टी एस सिंहदेव उदयपुर के ही कुदरबसर गाँव पहुँचे तो ग्रामीणों ने ग्रामसभा कराए जाने का मुद्दा उठा दिया, तो मंत्री सिंहदेव वन अमले पर बरस गए।

मंत्री टी एस सिंहदेव ने अधिकारियों की मौजुदगी में ग्रामीणों से कहा
“जो फ़ैसला आपका मैं आपके साथ हूँ, मैं फिर कह रहा हूँ अंतिम निर्णय आपका..कोई दबाव में नहीं आना है..मत सहमति देना.. मुझे सरकार का हिस्सा मत मानिए.. मैं आपका हूँ.. आप सब का हूँ

Get real time updates directly on you device, subscribe now.