VIDEO : पत्रकार दीपक चौरसिया और उनके कैमरामैन पर जानलेवा हमला…..शाहीन बाग में कवरेज के दौरान घटी घटना…. न्यूज ब्रॉडकास्ट फेडरेशन ने की हमले की निंदा…

नयी दिल्ली 25 जनवरी 2020। नागरिकता कानून को लेकर शाहीन बाग में प्रदर्शन कर रहे प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए हैं. शाहीन बाग प्रोटेस्ट के कवरेज पर गए न्यूज नेशन के वरिष्ठ पत्रकार दीपक चौरसिया के साथ प्रदर्शनकारियों ने बदसलूकी की. ये प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए और न्यूज नेशन के कैमरामैन का कैमरा तोड़ दिया.इतना ही नहीं हमलावरों ने कैमरा छीनकर उसे भी तोड़ दिया। जख्मीहालत में दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जिसमें कैमरामैन की हालत गंभीर है।

घटना की जानकारी पत्रकार ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर वीडियो अपलोड कर दिया है, जिसमें लिखा है कि वहां के लोगों की आवाज देश के लोगो तक पहुंचाने के लिए पहुंचे तो वे मॉब लिंचिंग के शिकार हो गए। उन्होंने पुलिस में शिकायत भी दी है।

दक्षिण पूर्व जिला डीसीपी चिन्मय बिश्वाल ने बताया कि उन्हें इस घटना की शिकायत मिली है। हम मामले की जांच कर रहे हैं। आरोपियों की पहचान कर आगे की कानूनों कार्रवाई की जाएगी। घटना शुक्रवार दोपहर की है। एक निजी चैनल में पत्रकार दीपक चौरसिया अपने कैमरा मैन के साथ शाहीन बाग स्थित प्रदर्शन स्थल पर पहुंचे थे। जब उन्होंने रिपोर्टिंग शुरू की तो कुछ लोग उनके पास पहुंच बदसलूकी करने लगे। उनके कैमरा मैन ने जब घटना को रिकॉर्ड करना शुरू किया तो उन लोगों ने कैमरा मैन पर भी हमला कर दिया।

कैमरा तोड़ दिया और उन दोनों की बेरहमी से पिटाई कर घायल कर दिया। पत्रकारों द्वारा सड़क जाम कर किए जा रहे प्रदर्शन से आम लोगों को हो रही परेशानी को दिखाने व उनसे सवाल करने को लेकर प्रदर्शनकारी नाराज हो गए। उनका आरोप था कि उनके प्रदर्शन को प्रमुखता दिए जाने के बजाय इससे आम लोगों को हो रही परेशानी को क्यों प्रमुखता दिया जा रहा है। बहरहाल लोगों की मदद से किसी तरह से पत्रकार व कैमरामैन को लोगों की चंगुल से छुड़ाया गया। देर रात पीड़ित पत्रकार ने इस संबंध में शिकायत दी है, जिसके आधार पर पुलिस मामले की जांच कर रही है।

Spread the love