कोरोना के चक्कर में दो अधिकारी अब तक हुए सस्पेंड : तीन दिन के भीतर दो पर हुई कार्रवाई….. कोरोना फैलने की भविष्यवाणी करने वाले जनपद सीईओ किये गये निलंबित….कलेक्टर ने जारी किया आदेश

कांकेर 17 मार्च 2020। कोरोना के चक्कर में एक और अधिकारी नप गये । तीन दिन के भीतर दो अधिकारियों को कोरोना पर गलत अफवाह फैलाने पर सस्पेंड कर दिया गया है। कमाल की बात ये है कि ये दोनों कार्रवाई कांकेर में ही हुई है। कलेक्टर के निर्देश पर चारामा के जनपद सीईओ जीएस बढ़ई को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए उन्हे आदिवासी विकास विभाग में अटैच कर दिया गया है।

चारामा के जनपद सीईओ पर आरोप है कि उन्होंने 13 मार्च को अपने मोबाईल से जनपद पंचायत चारामा व्हाट्सएप ग्रुप में कोरोना को लेकर गलत जानकारी पोस्ट किया। जबकि राज्य सरकार ने इस बात का निर्देश दे रखा है कि कोई भी व्यक्ति बिना पूर्वानुमति के मीडिया या सोशल मीडिया में किसी तरह की जानकारी नहीं शेयर करेगा।

आपको बता दें कि इससे पहले कोरोना में मुर्गा खाने को लेकर किये गये एक पोस्ट के बाद कांकेर के नरहरपुर के बीआरसी को भी कलेक्टर ने सस्पेंड कर दिया था। जनपद सीईओ ने अपने व्हाट्सएप पोस्ट में कहा था कि डोकला तक कोरोना पहुंच गया है, जिससे गांव में दहशत का माहौल फैल गया। 13 मार्च को रात 9.11 पर किये पोस्ट में ग्राम पंचायत डोकला में कोरोना वायरस 14 मार्च को 11 बजे पहुंचेगा। ग्रामीण सावधानी बरतें, इस पोस्ट के बाद ग्रुपों में सवाल जवाब का दौर शुरू हो गया।

हालांकि इस पोस्ट को लेकर आपत्ति भी की गयी, लेकिन जनपद सीईओ ने ना तो पोस्ट डिलीट किया और ना ही इसके लिए खेद जताया। ये मामला कलेक्टर के संज्ञान में आया तो उन्होंने इस पर कार्रवाई की ।

Spread the love