शासकीय राशि का गबन करने वाले फरार 2 आरोपी गिरफ्तार, लाखों की धोखाधड़ी कर हो गए थे गायब…..

धमतरी 2 जुलाई 2020. वर्ष 2018 में सीएसपीडीसीएल धमतरी संभाग के कार्यपालन अभियंता (संचा/संधा) सतीश कुमार किंडो ने थाना अर्जुनी में लिखित शिकायत दर्ज कराई थी. रिपोर्ट में कहा गया था कि उपभोक्ताओं द्वारा जमा की गई विद्युत बिल की नगद राशि एवं चेक की राशि को आरोपी लिपिक जगन्नाथ मानिकपुरी, गोपाल साहू, योगेश कुमार सेन एवं बलराम सोनकर के बैंक खातों में जमा कराया गया था.

कुछ दिनों बाद आरोपियों ने इन खातों से जमा राशी 11,000,57 रुपया को कार्यपालन अभियंता के खाते में जमा ना कर कूट रचित दस्तावेज के आधार पर शासकीय राशि का गबन किया. इस बारे में पीड़ितों द्वारा थाना अर्जुनी में नामजद आरोपियों के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी. आरोपियों के खिलाफ धारा 420, 409, 467, 468, 471, 120बी, 34 भादवी के तहत अपराध पंजीबद्ध कर जांच शुरू की गई। मुख्य आरोपी जगन्नाथ मानिकपुरी को अर्जुनी पुलिस ने गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया। इसके बाद अन्य आरोपियों की भी तलाश शुरू की गई।

एसपी बीपी राजभानु ने मामलों में तत्काल कार्रवाई करते हुए निराकरण करने निर्देशित एडिशनल एसपी मनीषा ठाकुर रावटे को दिए। इसी दौरान मुखबिर सूचना के माध्यम से आरोपी योगेश कुमार सेन और बलराम सोनकर को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की गई। मामले के आरोपी योगेश कुमार सेन ने बताया कि उसके द्वारा जगन्नाथ मानिकपुरी से शासकीय रकम 5,37,890 रुपया प्राप्त कर अपने बैंक अकाउंट के माध्यम से उसे देना एवं बलराम सोनकर ने भी मुख्य आरोपी जगन्नाथ मानिकपुरी से शासकीय रकम 4,27,290  रुपया प्राप्त कर अपने बैंक अकाउंट के माध्यम से उसे दिया. मुख्य आरोपी जगन्नाथ मानिकपुरी के साथ षड्यंत्र कर शासकीय राशि 9,65,180 रुपया का गबन किया गया. आरोपियों को गिरफ्तार कर आज ज्यूडिशियल रिमांड पर भेजा गया है.

Spread the love