ट्रिपल मर्डर: गर्लफ्रेंड की हत्या करने वाले साइको किलर उदयन को आजीवन कारावास…. रायपुर में भी दो मर्डर से है इसका कनेक्शन… जानिए इस सरफिरे कातिल की पूरी कहानी

रायपुर 26 अगस्त 2020. माता-पिता को मारकर घर के आंगन में गाड़ने और गर्लफ्रेंड को मारकर लोहे के बॉक्स में चुनने वाले साइको किलर उदयन दास को आजीवनकारावास की सजा सुनाई गई है। आरोपी उदयन दास को पश्चिम बंगाल की एक स्थानीय अदालत ने ये सजा सुनाई है। आरोपी ने अपनी गर्लफ्रेंड आकांक्षा शर्मा की हत्या 2017 में कर दी थी। हत्या के बाद शव को एक मेटल के बक्से में बंद कर रखा हुआ था. आकांक्षा शर्मा पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा जिले की रहने वाली थीं।

Raipur: Dozen Sample Of Serial Killer Udayan's Parents Did Not Get Blood - मां-बाप की बेरहमी से हत्या करने वाले सीरियल किलर उदयन को लेकर हुआ ये नया खुलासा | Patrika News

आरोपी ने घटना को छुपाने के लिए बक्से पर ईंट पत्थर डाल दिए थे। बाद में यह मामला फास्ट ट्रैक कोर्ट को ट्रांसफर कर दिया गया था. फास्ट ट्रैक कोर्ट में सेशंस जज ने दास को दोषी करार दिया. इस मामले के सरकारी वकील ने सजा के बारे में बताया, “कोर्ट ने आज आरोपी को आईपीसी की धारा 302 के तहत आजीवन कारावास की सजा सुनाई. उस पर 20 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया गया। उदयन दास अगर जुर्माना नहीं चुकाएगा तो उसे छह महीने और जेल की सजा काटनी पड़ेगी.” इससे पहले दास ने अपने माता-पिता की भी कथित तौर पर हत्या कर दी थी. इन तीनों हत्याओं के बाद लोग उदयन दास को ‘सीरियल किलर’ बोलने लगे थे।

देश को दहला दिया था इस सीरियल किलर ने, कड़ी सुरक्षा बीच कोर्ट में पेशी - cg raipur district court serial killer udayan das security crpz - AajTak

बता दें, देवेंद्र कुमार शर्मा की बेटी आकांक्षा उर्फ श्वेता (28) की 2007 में उदयन नाम के लड़के से ऑरकुट पर दोस्ती हुई थी। जून 2016 में घर से नौकरी करने की बात कहकर आकांक्षा भोपाल आ गई। यहां वह उदयन के साथ साकेत नगर में रहने लगी। उसने परिवारवालों को बताया कि मैं अमेरिका में नौकरी कर रही हूं। जुलाई 2016 के बाद आकांक्षा के परिवारवालों से बात होनी बंद हो गई। भाई ने नंबर ट्रेस कराया तो लोकेशन भोपाल की निकली। परिवार के लोगों को शक था कि आकांक्षा उदयन के साथ रह रही है। दिसंबर 2016 में आकांक्षा की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज हुई। एक महीने की जांच के बाद पुलिस उसके ब्वॉयफ्रेंड उदयन के घर पहुंची और उसे गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने आकांक्षा की हत्या की बात कबूली।

Serial killer Udayan Das was presented in Raipur court | सीरियल किलर उदयन दास को रायपुर कोर्ट में किया गया पेश

पुलिस ने जब उदयन के घर की तलाशी ली तो सभी कमरों में सामान बिखरा हुआ था और कमरों से बदबू आ रही थी। पुलिस ने बताया कि उदयन ने पहले आकांक्षा का मुंह तकिये से दबाया और फिर उसका गला घोंट दिया। आकांक्षा के शव को ठिकाने लगाने के लिए उदयन ने अपने एक दोस्त की मदद से लाश को एक बॉक्स में बंद किया। उसके बाद घर में ही उसने आकांक्षा को दफन कर दिया। आकांक्षा जहां दफन हुई उदयन ने उसपर चबूतरा बना दिया। बाद में पुलिस ने शव को छह घंटे की मशक्कत के बाद चबूतरे को तोड़कर निकाला।

CRIME INVESTIGATION DOCUMENTARY OF INDIAN PSYCHO SERIAL KILLER, THE LOVE BIRD UDAYAN DAS - YouTube

आकांक्षा अपने एक दोस्त से फोन पर अक्सर बात करती थी। यह बात उदयन को नागवार गुजरती थी। 14 जुलाई 2016 की रात आकांक्षा और उदयन के बीच जमकर बहस हुई थी। आकांक्षा सो गई, लेकिन उदयन रातभर जागता रहा। मारने की प्लानिंग करता रहा। 15 जुलाई की सुबह वह आकांक्षा के सीने पर बैठ गया और तकिए से उसका तब तक मुंह दबाता रहा, जब तक कि उसकी सांसें नहीं थम गईं। इसके बाद भी उसका गुस्सा शांत नहीं हुआ। उसने हाथ से उसका गला घोंट दिया।

bhopal murder case : cops exhume remains of girlfriend killer's parents in raipur

उदयन ने कबूल किया है कि उसने अपने मां-बाप की हत्‍या की थी और अपने रायपुर वाले मकान में उन्‍हें दफन कर दिया था। पुलिस उदयन को भोपाल से रायपुर ले गई और मकान की खुदाई कर हड्डियां बरामद किया है। पुलिस ने हड्डियों को डीएनए टेस्‍ट के लिए भेजा है। पुलिस ने बताया कि उदयन ने मां-बाप की हत्‍या सिर्फ इसलिए की थी क्‍योंकि वो उसे नशा और फिजूल खर्च करने से रोकते थे। उदयन के खिलाफ पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा में अपहरण, मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रेमिका आकांक्षा की हत्या और छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में अपने माता-पिता की हत्या और धोखाधड़ी का मामला शामिल है।

Psycho killer parents skeleton found in digging | News: Bhopal

 

Spread the love