ट्रिपल मर्डर का खुलासा, कथा वाचने वाले पंडित ने प्रेमिका के साथ उसके पति और बेटे को उतारा मौत के घाट…शारीरिक संबंध बनाकर महिला को कर रहा था ब्लैकमेल

बलौदाबाजार-भाटापारा 13 अप्रैल 2020। पलारी में हुये तिहरे हत्याकांड की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा लिया है। हत्या का आरोपी कोई और नही बल्कि महिला का प्रेमी ही निकला है। हवस में अंधे आरोपी कथा सुनाने वाले पंडित  ने प्रेमिका के पति और बेटे को भी मौत के घाट उतार दिया। मामले में पुलिस ने घटना के 12 घंटे के भीतर ही मुख्य आरोपी सहित तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया था। घटना पलारी थाना क्षेत्र के ग्राम छेरकाडीह की है।

11 अप्रैल की रात आरोपियों ने घर घुसकर महेश्वरी साहू 45, पति यशवंत साहू 47, देवेन्द्र साहू 17 वर्ष की बेहरहमी से हत्या कर दी थी। घटना की सूचना मिलने के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुये एसपी प्रशांत ठाकुर ने आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिये। एडिशनल एसपी निवेदिता पाल के नेतृत्व में अलग अलग टीम बनाकर मामले की जांच शुरू की गयी। पूछताछ में पुलिस को पता चला कि ग्राम जारा निवासी पूजा पाठ कराने वाले रविशंकर शुक्ला का मृतकों के यहां आना जाना था। रविशंकर का मृतक यशवंत साहू की पत्नी के साथ अवैध संबंध का भी खुलासा हुआ था। इसी का फायदा उठाकर आरोपी रविशंकर मृतिका को ब्लैकमेल और प्रताड़ित भी कर रहा था, जिसकी शिकायत मृतिका ने अपने पति से भी की थी। इस मामले को लेकर परिजनों और सरपंच की उपस्थिति में बैठक की गयी। बैठक में रविशंकर को मृतिका से नहीं मिलने जुलने को कहा गया था।

इस जानकारी के बाद संदेह के आधार पर पुलिस ने पूछताछ के लिये रविशंकर को पुलिस हिरासत में लिया गया। पुलिस पूछताछ में पहले तो रविशंकर गोलमोल जवाब देकर पुलिस को गुमराह करने लगा। जब उससे कड़ाई से पूछताछ की गयी तो आरोपी ने हत्या करने की बात को कबूल कर ली। आरोपी रविशंकर ने पुलिस को बताया कि वो दो साल पहले ही सत्यनारायण की कथा करने के लिये मृतिका के घर आया था। इस दौरान दोनों के बीच प्रेम हो गया और धीरे धीरे दोनों ने शारीरिक संबंध भी बना लिया। इसके बाद मृतिका के पति को इसकी जानकारी हो गयी और दोनों का मिलना जुलना बंद हो गया था। इस बात से नाराज होकर आरोपी पुजारी ने मृतिका और उसके परिवार की हत्या करने की योजना बनायी। 11 और 12 अप्रैल की रात उसने अपने दो साथी दुर्गेश वर्मा और नेमीचंद के साथ मिलकर प्रेमिका, उसके पति और बच्चे की धारदार हथियार से हत्या कर दी थी।

पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों के पास से घटना में उपयोग किये गये हथियार और वाहन को भी जब्त कर लिया गया है। तीनों आरोपियों के खिलाफ 302 के तहत मामला दर्ज कर जेल भेज दिया गया है।

 

Spread the love