आज है जनता कर्फ्यू : बेवजह ना निकलें घर से….आज ये 5 काम बिल्कुल भी न करें, तो कमर टूट जाएगी कोरोना की….शाम 5 बजे कोरोना योद्धाओं को धन्यवाद देना भी ना भूलें

नयी दिल्ली 22 मार्च 2020। आज जनता कर्फ्यू है। प्रधानमंत्री की अपील पर जनता कर्फ्यू के मद्देनजर पीएम मोदी ने देशवासियों से घर से बाहर न निकलने के लिए कहा है। वहीं शाम को 5 बजे इस बीमारी से लड़ रहे डॉक्टरों, नर्सों और स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों के समर्थन में बालकनी और खिड़कियों  में खड़े होकर ताली, थाली या घंटी बजाने की भी अपील की है.

दरअसल इस बीमारी के वायरस के लिए अभी  तक कोई दवाई नहीं बनी है और इसके रोकथाम के लिए एक ही उपाय है कि जितनी ज्यादा से ज्यादा दूरी बनाए रखी जा सके ताकि इसका वायरस दूसरे लोगों तक न पहुंचे. जनता कर्फ्यू के दौरान आम नागरिकों को भी अपने कर्तव्य का पालन करना होगा. इस दौरान पांच ऐसी बातें हैं जो किसी को नहीं करना है.

भारत सरकार के गृह सचिव अजय भल्ला ने छत्तीसगढ़ के मुख्य सचिव श्री आर.पी. मण्डल को पत्र लिखा है।    उन्होंने पत्र में लिखा है कि प्रधानमंत्री ने 19 मार्च को देश के नाम संबोधन में ’जनता कर्फ्यू’ का आव्हान किया है। जिसमें लोगों से सुबह सात बजे से रात नौ बजे तक अपने घरों में रहने की अपील की गई है। प्रधानमंत्री ने ’जनता कर्फ्यू’ के दौरान शाम पांच बजे देशवासियों से अपील की है कि वे डॉक्टरों, चिकित्सा के पेशे में लगे लोगों, साफ-सफाई में लगे लोगों को उनकी सेवाओं के लिए धन्यवाद दें।

लोग अपने घरों की बालकनी, घर के दरवाजे पर खड़े होकर पांच मिनट तक ताली बजाकर, घण्टी बजाकर, थाली बजाकर अतिआवश्यक सेवाओं में लगे लोगों के प्रति आभार प्रकट कर सकते हैं। केन्द्रीय गृह सचिव ने मुख्य सचिव से यह भी आग्रह किया है कि सभी नगरीय निकायों, पंचायतों, अग्निशमन केन्द्रों औद्योगिक क्षेत्रों, पुलिस और रक्षा सेवाओं के संस्थानों में शाम पांच बजे सायरन बजाकर लोगों को इसकी सूचना दी जाए।

किसी तरह की अफवाह न फैलाएं
इस बीमारी को लेकर तरह-तरह की अफवाहें सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही हैं. जनता कर्फ्यू के दौरान अगर किसी भी  सूचना को बिना सरकारी जानकारी के न फैलाएं. कोई भी वाट्सएप वीडियो, मैसेज, नंबर जो इस बीमारी से जुड़ी किसी भी सूचना को बहुत बढ़ा-चढ़ाकर बता रहा हो उसको आगे न बढ़ाएं.

घबराकर ज्यादा खरीददारी के चक्कर में न पड़ें
ऐसा भी देखा जा रहा है कि लोग पैनिक में आकर ज्यादा से ज्यादा खरीददारी कर रहे हैं. जबकि सरकार इस बात को बार-बार कह रही है कि खाने-पीने की सामानों की कोई कमी नहीं है लेकिन अगर लोग इस तरह से बेवजह खरीददारी करेंगे तो निश्चित तौर पर बाजार में चीजों की कमी आ जाएगी और अफरा-तफरी मच सकती है. जरूरी सामान दूध, दवाएं, सब्जी आज ही खरीदकर रखे लें

आज बिलकुल बाहर न निकलें
कल के दिन बिलकुल बाहर न निकलें क्योंकि अगर आप ऐसा करेंगे तो दूसरे भी आपको देखकर ऐसा कर सकते हैं. जिम्मेदारी निभाएं और बाकी लोगों को भी इसके बारे में बताएं. खुद प्रधानमंत्री ने 10-10 लोगों को जागरूक करने का आम नागरिको से अपील किया है।

खुद डॉक्टर न बनें
अगर किसी को फ्लू या बुखार आता है तो खुद डॉक्टर न बनें और न नीम-हकीमों की तरह नुस्खे बताएं. कोरोना वायरस की अभी तक कोई दवा नहीं आई है. इसका इलाज डॉक्टरों की देखरेख में ही संभव है.

घर में पार्टी जैसा माहौल न बनाएं
आज छुट्टी है तो इसका मतलब घर में पार्टी का आयोजन ना कर लें। घर का वातावरण सामान्य बनाए रखें ताकि आसपास के लोगों को दिक्कत न हो. तेज धुन में गाने और शोरगुल न करें. छुट्टी मनाने के चक्कर में उल्टा सीधा कुछ भी न खाएं. हल्का और सामान्य भोजन करें

Get real time updates directly on you device, subscribe now.