npg

गुरुवार राशिफल: मिथुन और धनु के लिए लाभ देने वाला दिन… इन 6 राशिवालों को सुनहरा मौका, जानिए बाकियों का हाल

रायपुर 16 सितम्बर 2021. गुरुवार को भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि है। इस दिन सूर्योदय पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में होगा, जो सुबह 6.28 तक रहेगा। इसके बाद उत्तराषाढ़ा नक्षत्र दिन भर रहेगा। गुरुवार को पहले पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र होने से धाता और उसके बाद उत्तराषाढ़ा नक्षत्र होने से सौम्य नाम के 2 शुभ योग […]

Spread the love

गुरुवार राशिफल: मिथुन और धनु के लिए लाभ देने वाला दिन… इन 6 राशिवालों को सुनहरा मौका, जानिए बाकियों का हाल
X

रायपुर 16 सितम्बर 2021. गुरुवार को भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि है। इस दिन सूर्योदय पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र में होगा, जो सुबह 6.28 तक रहेगा। इसके बाद उत्तराषाढ़ा नक्षत्र दिन भर रहेगा। गुरुवार को पहले पूर्वाषाढ़ा नक्षत्र होने से धाता और उसके बाद उत्तराषाढ़ा नक्षत्र होने से सौम्य नाम के 2 शुभ योग इस दिन बन रहे हैं। गुरुवार को दोपहर में लगभग 12.10 पर चंद्रमा राशि बदलकर धनु से मकर में प्रवेश करेगा। इस राशि में चंद्रमा और गुरु पहले से ही स्थित है। इन तीनों ग्रह के एक ही राशि में होने से सभी राशियों पर इसका शुभ-अशुभ असर देखने को मिलेगा।

मेष राशि

आज का दिन आपके लिए काफी व्यस्तता भरा रहेगा। आज आप दूसरों की मदद करने के लिए दौड़ते नजर आएंगे, लेकिन आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि कहीं दूसरे इसे आपका स्वार्थ ना समझें, इसलिए आज दूसरों के साथ-साथ अपने कामों को भी प्राथमिकता दें। आज आपको कोई भी ऐसा कार्य नहीं करना है, जिसके पूरा होने में आपको विलंब हो, क्योंकि यदि ऐसा कोई कार्य किया, तो वह पूरा नहीं होगा। संतान की प्रगति को देख आज मन में प्रसन्नता होगी। सायंकाल का समय आज आपको अपने व्यापार के लिए कोई शुभ समाचार देकर जाएगा।

वृष राशि

आज का दिन आपके लिए सकारात्मक परिणाम लेकर आएगा। व्यापार की प्रगति को देखकर आपके कुछ शत्रु आपसे ईशा करेंगे, लेकिन परेशान ना हो, वह आपस में ही लड़का नष्ट हो जाएंगे और आपका कुछ भी नहीं बिगाड़ पाएंगे। राज्य मान प्रतिष्ठा में भी आज वृद्धि होगी और आज आपको किसी भी देश में रह रहे परिजन से कोई शुभ समाचार सुनने को मिल सकता है, जिससे मन प्रसन्न होगा। प्रॉपर्टी के मामले में कोई बड़ी डील फाइनल करेंगे, जो आपको भरपूर लाभ देकर जाएगी। यदि कहीं निवेश करने का मन हो, तो आज दिल खोलकर करें, क्योंकि भविष्य में उसका आपको भरपूर लाभ मिलेगा।

मिथुन राशि

आज का दिन आपके लिए शुभ परिणाम लेकर आएगा। आज आपको अपने किसी मित्र की चिंता सता सकती है, जिसकी आप हर संभव मदद भी करेंगे। आज आपको अपने व्यवसाय के लिए नए कार्य को करने के लिए भागदौड़ करनी पड़ सकती है। आप अपने जीवनसाथी के लिए समय निकालने में नाकामयाब रहेंगे। आज आपको अपनी माता जी के स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहना होगा क्योंकि उसमें कुछ गिरावट आ सकती है। ससुराल पक्ष से भी आज आपको मान सम्मान मिलता दिख रहा है।

कर्क राशि
आज का दिन आपके लिए शुभ संपत्ति के संकेत लेकर आ रहा है। यदि आज आप कोई घर व दुकान खरीदना चाहते हैं, तो आज आप उसे खरीदने में कामयाब रहेंगे, जिससे आपकी संपत्ति में इजाफा होगा और आपको प्रसन्नता होगी। परिवार के सदस्य आज आपकी प्रगति देखकर आपके लिए कोई छोटी मोटी पार्टी का आयोजन कर सकते हैं। संतान पक्ष की ओर से भी आज आपको हर्षवर्धन समाचार सुनने को मिलेगा। आप अपने किसी लंबे समय से रुके हुए कार्य को पूरा करने में आप संतुष्ट रहेंगे।

सिंह राशि
आज का दिन आपके लिए चारों ओर का वातावरण खुशनुमा बना रहेगा और आज आप यदि किसी नए कार्य को करेंगे, तो उसमें आपको भाग्य का भरपूर साथ मिलेगा। आज आप अपने कार्यस्थल में भी कुछ परिवर्तन कर सकते हैं, जिससे आपको लाभ होगा, लेकिन आज आपको अपने घर व नौकरी या व्यवसाय आदि मे किसी से कोई वाद-विवाद पनपता है, तो आपको अपनी वाणी की मधुरता को बनाए रखना होगा, नहीं तो वह आपके रिश्तो में दरार डाल सकती है। आज आप लोगों का दिल जीतने में भी कामयाब रहेंगे, जिसका आपको लाभ होगा।

कन्या राशि
सूर्यदेव आपके पहले स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में पहला स्थान लग्न का होता है, यानि आपका खुद का स्थान होता है, लिहाजा इस स्थान पर सूर्यदेव के गोचर से आपको कई तरह के फायदे होंगे। आपको धन की प्राप्ति होगी, आपके यश-सम्मान में बढ़ोतरी होगी और आपके प्रेम-संबंध मजबूत होंगे। इसके साथ ही आपकी संतान को न्यायालय से लाभ मिलेगा। सूर्यदेव के इन शुभ फलों को सुनिश्चित करने के लिए अगले 30 दिनों तक रोज सुबह स्नान आदि के बाद सूर्यदेव को नमस्कार करें।

तुला राशि
सूर्यदेव आपके बारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में बारहवें स्थान का संबंध शैय्या सुख से है, परन्तु इस स्थान का संबंध व्यय से भी है, लिहाजा सूर्य के इस गोचर से आपको शैय्या सुख तो मिलेगा, लेकिन आपके खर्चें भी बहुत हद तक बढ़ जायेंगे। सूर्यदेव के अशुभ फलों से मुक्ति पाने के लिए और शुभ फल सुनिश्चित करने के लिए 17 अक्टूबर तक अपने घर की खिड़की और दरवाजे खुले रखें, ताकि आपके घर के एक-एक कोने में सूर्य की किरणें पहुंच सके।

वृश्चिक राशि
सूर्यदेव आपके ग्यारहवें स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में ग्यारहवें स्थान का संबंध आमदनी और कामना पूर्ति से है। सूर्य के इस गोचर से मेहनत के बल पर आपकी आमदनी में वृद्धि होगी। आपको धन लाभ के अवसर मिलेंगे और आपके काम बनेंगे। अगले 30 दिनों के दौरान शुभ फलों को सुनिश्चित करने के लिये और अशुभ फलों से बचने के लिए रात के समय अपने सिरहाने पर 5 बादाम रखकर सोएं और अगले दिन सुबह उठकर उन्हें किसी धर्मस्थल या मंदिर में दान कर दें।

धनु राशि
सूर्यदेव आपके दसवें स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में दसवें स्थान का संबंध राज्य और पिता से है। सूर्य के इस गोचर से आपको अपने करियर में सफलता अवश्य मिलेगी, साथ ही आपके पिता के काम भी बनेंगे। लिहाजा अपने करियर में और पिता के कार्यों में सफलता सुनिश्चित करने के लिए 17 अक्टूबर तक घर से बाहर निकलते समय अपना सिर ढक्कर जाएं| आप सिर पर सफेद रंग की टोपी या पगड़ी पहन सकते हैं।

मकर राशि
सूर्यदेव आपके नवें स्थान पर गोचर करेंगे। इस स्थान पर सूर्यदेव के गोचर से आपको अपने कार्यों में भाग्य का उतना साथ नहीं मिल पायेगा। आपको अपने कार्यों में कड़ी मेहनत की जरूरत है, तभी आपको सफलता मिल सकती है। अगले 30 दिनों तक अपने भाग्य का साथ पाने के लिए और अशुभ फलों से बचने के लिए घर में पीतल के बर्तन का उपयोग करें, साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि किसी को भी 17 अक्टूबर तक पीतल की कोई चीज गिफ्ट में न दें और न ही दान करें।

कुंभ राशि
सूर्यदेव आपके आठवें स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में आठवें स्थान का संबंध हमारी आयु और स्वास्थ्य से है। लिहाजा सूर्य के इस गोचर से आपका स्वास्थ्य बेहतर रहेगा। अतः अपने बेहतर स्वास्थ्य को सुनिश्चित करने के लिए और साथ ही लंबी आयु की प्राप्ति के लिए अगले 30 दिनों के दौरान काली गाय की सेवा करें, साथ ही जब भी मौका मिले बड़े भाई की मदद करें।

मीन राशि
सूर्यदेव आपके सातवें स्थान पर गोचर करेंगे। जन्मपत्रिका में सातवें स्थान का संबंध जीवनसाथी से है और आपके दाम्पत्य जीवन से है। सूर्य के इस गोचर से आपके दाम्पत्य संबंध मधुर होंगे। जीवनसाथी के साथ अपने संबंधों को मधुर बनाये रखने के लिये और किसी भी तरह की अशुभ स्थिति से बचने के लिये अगले 30 दिनों के दौरान अपने भोजन में से एक हिस्सा निकालकर किसी जरूरतमंद को खिलाएं।

Next Story