कोरोना मरीज के घर के तीन किलोमीटर के एरिया को किया गया सील, स्वास्थ्य विभाग की टीम आसपास के घर-घर जा कर करेगी संदिग्धों की जाँच…. जिला प्रशासन भी कर रहा मानिटरिंग

कोरबा 31 मार्च 2020। कोरबा में कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद रामसागर पारा की तीन किलोमीटर परिधि का क्षेत्र अतिसंवेदनशील जोन घोषित कर दिया गया है। कोरोना नियंत्रण के लिए निर्धारित प्रोटोकाल और दिशा निर्देशों के अनुसार इस क्षेत्र के लगभग दो सौ से ढाई सौ घरों में स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंचना शुरू हो गई है। क्षेत्र के इन सभी घरों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की जानकारी लेने के लिए दस डाक्टरों के पर्यवेक्षण में चालीस दल काम पर लगाये गये हैं।

दलों द्वारा घरों में जा-जा कर पारिवारिक सदस्यों की जानकारी और उन्हें सर्दी, खांसी, बुखार, श्वास लेने में तकलीफ जैसी परेशानियों के बारे में पूछा जा रहा है। जिन परिवारों के सदस्यों को इस तरह की तकलीफें होंगी उन्हें तत्काल ईलाज के लिए जिला अस्पताल भेजा जायेगा। घर-घर सर्वे के लिए मितानीन, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य कर्मियों के दल बनाये गये हैं।संक्रमित छात्र और उसके सम्पर्क में आये लोगों की पहचान करने के लिये भी यह दल तेजी से काम कर रहे हैं। दलों को जरूरी चिकित्सा उपकरण और सुरक्षा संबंधी साधन उपलब्ध कराये गये हैं। संक्रमित छात्र के सम्पर्क मंे आने वाले लोगों की जानकारी मिलने पर उन्हें भी होम आईसोलेशन में रखा जायेगा। पूरे शहर में कोरोना वायरस से सुरक्षा और बचाव के संबंध में जरूरी जानकारी आमजनों को मुनादी कराकर उपलब्ध करायी जा रही है।

संक्रमित क्षेत्र में लाॅकडाउन की स्थिति में आवश्यक खाद्य सामग्रियों की आपूर्ति के लिये भी जिला प्रशासन द्वारा पूरी व्यवस्था कर ली गई है। लोगों को अपने घरों में ही रहने की हिदायत दी जा रही है। नगर निगम द्वारा इन क्षेत्रों में अनाज, फल, सब्जी, दूध आदि की आपूर्ति बनाये रखने के लिये घर पहुॅच सेवा शुरू कर दी गई है। जिन लोगों को इन चीजों की जरूरत हो वे अभय मिंज से मोबाईल नंबर 77730-07193, विमल गोयल से 73897-87573, विपिन मिश्रा से 97520-94121 और डी.सी. सोनकर से 97520-94130 पर सम्पर्क कर अपनी आवश्यकता बता सकते हैं। फोन करने के लगभग एक घण्टे के भीतर संबंधित लोगों को उनकी जरूरतों की चीजों की आपूर्ति कर दी जावेगी।

Spread the love