शांभवी के इस अंदाज ने मन मोह लिया.. जन्मदिन पर गुल्लक तोड़ बिलासपुर पुलिस को दिए 6 हज़ार रुपये..और बोली “पुलिस अंकल.. आप इससे कुछ लोगों का खाना दवाई करा देना.. मेरा बर्थडे हो गया”

बिलासपुर,6 अप्रैल 2020। थाना प्रभारी तारबहार के पास शाम को वो बच्ची पहुँची, जिसने जिद ठानी थी
“पुलिस अंकल मुझे आपसे मिलना है.. कुछ देना है.. मेरा जन्मदिन है”
बच्ची के आग्रह और उसके उत्साह को देख थाना प्रभारी तारबहार ने कप्तान प्रशांत अग्रवाल को फ़ोन लगाया, तो कप्तान ने उसे कोविड 19 के प्रावधानों का पालन करते हुए थाने बुला बात करने के निर्देश दिए।जिसके बाद उस बच्ची जिसका नाम शांभवी साहू था, उसे पेट्रोलिंग पार्टी भेज कर बुलाया गया।

शांभवी पहुँची तो उसने गुल्लक तोड़ते हुए कहा
“पुलिस अंकल.. मेरा जन्मदिन है.. ये है मेरी गुल्लक.. ये पैसा है..इससे आप गरीब लोग को खाना और दवा करा देना.. बस ये देना था.. मेरा जन्मदिन हो गया.. मैं जा रही अंकल”
शांभवी की गुल्लक में छ हज़ार रुपए थे, उसे टीआई तारबहार प्रदीप आर्या ने वादा किया
“बेटा आपको जन्मदिन की बधाई.. हम वैसा ही करेंगे जैसा आप चाहती हैं..”
शांभवी सरकंडा में रहती है और सेंट ज़ेवियर में कक्षा छठवीं की छात्रा है।

Spread the love