comscore

टीम इंडिया की धमाकेदार जीत के पीछे ये वजह…

नईदिल्ली 26 फरवरी 2021. टीम इंडिया ने दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम में इंग्लैंड के खिलाफ 10 विकेट की धमाकेदार जीत दर्ज की है. इस जीत के साथ टीम इंडिया ने चार मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त भी बना ली है. इंग्लैंड ने तीसरे टेस्ट में जीत के लिए 49 रनों की लक्ष्य रखा था, जिसे टीम इंडिया ने बिना विकेट खोये ही पूरा कर लिया. सबसे बड़ी बात है कि भारत ने तीसरे टेस्ट को डेढ़ दिन में ही जीत लिया. टीम इंडिया की इस धमाकेदार जीत के पीछे क्या रही सबसे बड़ी वजह ? आइये उसको जानें.

1. अक्षर पटेल की घातक गेंदबाजी – टीम इंडिया की जीत के पीछे अक्षर पटेल की बड़ी भूमिका रही. दूसरा टेस्ट कर रहे अक्षर पटेल ने अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में रिकॉर्ड तोड़ प्रदर्शन किया. पटेल ने दोनों पारियों को मिलाकर 70 लुटाकर कुल 11 विकेट चटकाये. इसके साथ ही अक्षर ने डे-नाइट टेस्ट में अपने नाम बड़ा रिकॉर्ड भी दर्ज कर लिया. डे-नाइट टेस्ट में 10 या उससे अधिक विकेट लेने वाले दुनिया के तीसरे गेंदबाज बन गये. इससे पहले पेट कमिंस ने 2018-19 में 62 रन देकर 10 विकेट लिये थे. जबकि 2016-17 में देवेंद्र बिशू ने 174 रन देकर 10 विकेट लिये थे.

2. अश्विन की घातक गेंदबाजी – टीम इंडिया की जीत के पीछे आर अश्विन की भी बड़ी भूमिका रही. मोटेरा में अश्विन ने अपना 100वां टेस्ट खेला. जिसमें उन्होंने दोनों पारियों को मिलाकर कुल 7 विकेट लिये. पहली पारी में अश्विन ने 4 और दूसरी पारी में 3 विकेट लिये. अश्विन ने अपने 100वें टेस्ट मैच में अपना 400वां विकेट भी पूरा कर लिया. इसके साथ ही टेस्ट में सबसे तेज 400वां विकेट लेने वाले दुनिया के दूसरे गेंदबाज बन गये. सबसे तेज 400वां विकेट का रिकॉर्ड मुथैया मुरलीधरन के नाम है.

3. मोटेरा का पिच – टीम इंडिया की जीत के पीछे मोटेरा के पिच ने भी बड़ी भूमिका निभायी. मोटेरा के पिच ने स्पिनरों को बड़ी मदद की, जिसमें टीम इंडिया के दोनों दिग्गज स्पिनरों ने अच्छी गेंदबाजी की और इंग्लैंड को रौंद डाला. इंग्लैंड के स्पिनरों ने भी मोटेरा की पिच पर अच्छी गेंदबाजी की, लेकिन टीम इंडिया के स्पिनरों ने बाज मार ली.

4. रोहित शर्मा की अच्छी बल्लेबाजी – टीम इंडिया की जीत में रोहित शर्मा की भी बड़ी भूमिका रही. रोहित शर्मा ने टीम इंडिया को दोनों पारियों में अच्छी शुरुआत दिलायी. पहली पारी में रोहित शर्मा टीम इंडिया की ओर से एक मात्र बल्लेबाज रहे, जिसने अर्धशतक बनाया. पहली पारी में रोहित की 96 गेंदों में 11 चौके की मदद से खेली गयी 66 रनों की पारी के दम पर भारत का स्कोर 145 रन तक पहुंचा. अगर रोहित शर्मा के स्कोर को कम कर दिया जाए तो भारत की स्थिति भी अच्छी नहीं मानी जा सकती है. वहीं दूसरी पारी में भी रोहित शर्मा ने तूफानी बल्लेबाजी की और 25 गेंदों में 3 चौके व एक छक्के की मदद से नाबाद 25 रन बनाये. रोहित ने छक्का जड़कर टीम इंडिया को जीताया.

5. टॉस ने भी टीम इंडिया को बचाया – मोटेरा में इंग्लैंड की टीम ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया. इंग्लैंड का यह फैसला टीम इंडिया के लिए वरदान साबित हुआ. कोहली सेना ने इंग्लैंड को पहले ही दिन 112 रन पर ढेर कर दिया और फिर दूसरे दिन दूसरी पारी में भी 81 रन पर समेट दिया.

Spread the love