fbpx

क्रिकेट के इस खिलाड़ी की हो गई ही ऐसी हालत, अब मज़दूरी करने को है मजबूर, सरकार से की यह अपील….क्रिकेट टीम में रह चुका है कप्तान

पिथौरागढ़ 28 जुलाई 2020। कोरोनावायरस से फैली महामारी कोविड-19 ने लाखों लोगों का रोज़गार छीन लिया है. बहुत से लोग दूसरों की मदद पर आश्रित हो गए हैं, वहीं कई किसी भी तरह अपनी ज़िंदगी की गाड़ी खींचने को मजबूर हैं. इसी तरह भारतीय व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के पूर्व कैप्टन महामारी के दौरान अपना जीवन चलाने के लिए मज़दूरी करने को मजबूर हो गए हैं.उत्तराखंड व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राजेंद्र सिंह धामी भी कोरोना काल में मनरेगा में मजदूरी का काम करने के लिए विवश हैं।

उत्तराखंड व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान राजेंद्र सिंह धामी इन दिनों अपना घर चलाने के लिए मनरेगा के तहत मजदूरी कर रहे हैं। धामी इस वक्त आर्थिक तंगी से के हालात से गुजर रहे हैं और काफी परेशान हैं। राजेंद्र सिंह धामी के पास कोरोना लॉकडाउन में अपने परिवार का गुजर-बसर करने के लिए कमाई का कोई साधन नहीं बचा है। ऐसे में वह उत्तराखंड में पत्थर तोड़कर घर चलाने को मजबूर हैं। ऐसे में उन्होंने सरकार से एक अपील की है।

पूर्व कप्तान राजेंद्र सिंह धामी ने कहा, ”उनका एक टूर्नामेंट शेड्यूल था, लेकिन कोविड-19 की वजह से वह रद्द हो गया। मेरी सरकार से अपील है कि मेरी क्वॉलिफिकेशन के मुताबिक मुझे नौकरी दिलवाई जाए।”

वहीं, डीएम डॉ. विजय कुमार जोगदांडे ने कहा, ”फिलहाल उनकी आर्थिक स्थिति काफी खराब है। हमने डिस्ट्रिक स्पोर्ट्स ऑफिसर से कहा है कि वह राजेंद्र को तुरंत पैसों की मदद पहुंचाए। उन्हें मुख्मंत्री स्वरोजगार योजना या अन्य योजनाओं के तहत लाभ दिया जाएगा, ताकि वह भविष्य में आजीविका अर्जित कर सके।”

Get real time updates directly on you device, subscribe now.