comscore

ये IPS करना चाहती है कृष्ण की भक्ति…. पत्र लिखकर विभाग से मांगी स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति, 23 साल की सर्विस में कई बार बटोरी सुर्खियां

अंबाला 31 जुलाई 2021.आईपीएस भारती अरोड़ा आईजी अंबाला रेंज ने स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति के लिए आवेदन किया है। उन्होंने इसके लिए पुलिस महानिदेशक मनोज यादव को पत्र लिखकर स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति मांगी है। उनके प्रार्थना पत्र पर सरकार क्या फैसला लेती है, अब सबकी निगाहें टिकी हुई हैं। आज यानी 31 जुलाई को सरकार भारती अरोड़ा को रिलीव करती है या नहीं, यह फैसला सरकार को करना है। वीआरएस के लिए दिए प्रार्थना पत्र में आइजी ने तीन माह के नोटिस पीरियड से भी छूट मांगी है। भारती अरोड़ा ने अपना शेष जीवन कृष्ण भक्ति में बिताने की इच्छा जताई है।

जब दूसरे अधिकारी और ऊंचे पदों के ख्वाब देखते हैं, भारती अरोड़ा ने शेष जीवन पूर्णतः धार्मिक तरीके से बिताना चाहती हैं। वह कृष्ण भक्त हैं और अब चैतन्य महाप्रभु, रहीमदास और मीराबाई की तरह प्रभु श्रीकृष्ण की साधना में रत होना चाहती हैं।

उल्लेखनीय है कि आइपीएस भारती अरोड़ा ने एक अगस्त 2021 से सेवानिवृत्ति मांगी है। करीब 23 साल की नौकरी के बाद भारती अरोड़ा का यह कदम चर्चाओं में है। हरियाणा की वे पहली महिला आइपीएस हैं, जिन्होंने वीआरएस मांगी है। भारती अरोड़ा का इससे पहले कैडर दूसरा था, जबकि बाद में उन्होंने हरियाणा कैडर को ज्वाइन किया।

भारती अरोड़ा 1998 बैच की आइपीएस अफसर हैं, जबकि सात सितंबर 1998 को अपनी सर्विस शुरू की थी। आइपीएस भारती अरोड़ा की फाइल पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है। सरकार उनकी सेवानिवृत्ति की इच्छा पर क्या निर्णय लेती है, पता नहीं, लेकिन आज सरकार के फैसले पर सभी की निगाहें टिकी हैं। इस दिन सरकार उनकी प्रार्थना पर अपना निर्णय ले सकती है।

वर्ष 2004 से वृंदावन के प्रति भारती अरोड़ा के मन में मोह पैदा हुआ। उनका कहना है कि अब वृंदावन धाम में लोगों को भक्ति की राह दिखानी है। अपना जीवन वृंदावन धाम में ही अब बिताना है। वह अंबाला कैंट में रोजाना सत्संग में पाठ सुनने के लिए आती हैं। वीआरएस के लिए पुलिस महानिदेशक को लिखे पत्र में आईजी भारती अरोड़ा ने लिखा है कि पुलिस सेवा उनके लिए गर्व और जुनून रही है लेकिन आगे का जीवन वह प्रभु चरणों में बिताना चाहती हैं।50 साल की आईपीएस अधिकारी ने इसके लिए सरकार से तीन महीने के नोटिस पीरियड में भी छूट देने का आग्रह किया है

दो आईपीएस पहले भी पकड़ चुके हैं भक्ति की राह : इससे पहले भी दो आईपीएस अधिकारी भक्ति की राह पकड़ चुके हैं। कृष्ण भक्ति में डूबकर राधा का रूप धारण करने वाले यूपी के पूर्व आईजी डीके पांडा 2005 में खूब चर्चा में थे. तब उन्होंने खुद को दूसरी राधा और कृष्ण की प्रेमिका घोषित किया था। स्त्रीवेश में अपनी साधना का स्वरूप भी उन्होंने सार्वजनिक कर दिया था. इसी तरह बिहार के पूर्व डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे अब वे गेरुए कपड़े में कथावाचक की भूमिका में आ गए हैं। हाल में गुप्तेश्वर पांडे ने कहा था कि उन्होंने अपने आपको भगवान को समर्पित कर दिया है।

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!