ये बैंक करने जा रहा है बड़ा बदलाव: 1 मार्च से ग्राहकों को ट्रांजेक्शन में हो सकती है बड़ी परेशानी

नईदिल्ली 9 फरवरी 2021. बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहकों के लिए एक बेहद ही जरूरी खबर है. विजया और देना बैंक का विलय होने के बाद सार्वजनिक क्षेत्र का यह बैंक आगामी 1 मार्च 2021 से नियमों में बड़ा बदलाव करने जा रहा है. मीडिया की खबर के अनुसार, बैंक ऑफ बड‍़ौदा 1 मार्च से अपने आईएफसी कोड में बदलाव करने जा रहा है. इसके ग्राहकों को अपना ट्रांजेक्शन जारी रखने के लिए इसकी जानकारी रखना बेहद जरूरी है. ऐसा नहीं करने पर उन्हें पैसों का लेनदेन करने में कठिनाई हो सकती है.

बैंक की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार, बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक आगामी 1 मार्च 2021 के बाद पुराने आईएफएससी कोड पर लेनदेन जारी नहीं रख सकेंगे. सार्वजनिक क्षेत्र का सबसे बड़ा तीसरा बैंक ऑफ बड़ौदा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि प्रिय ग्राहकों, कृपया ध्यान दें. ई-विजया और ई-देना आईएफएससी कोड 1 मार्च 2021 से बंद होने जा रहे हैं. ई-विजया और देना बैंक की शाखाओं से आप नए आईएफएससी कोड प्राप्त कर लें. बस कुछ चरणों का पालन करें और सुविधा का अनुभव करें.

अगर आपको आईएफएससी कोड से संबंधित कोई भी परेशानी है या फिर कोई जानकारी लेना चाहते हैं, तो आप 1800 258 1700 टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं. इसके साथ ही आप मैसेज भी कर सकते हैं. मैसेज में आपको लिखना है “MIGR <Space> Last 4 digits of the old account number” अब इस मैसेज को आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 8422009988 पर भेज दें.

आईएफएससी कोड के बदलाव का खाताधारकों पर गहरा असर पड़ेगा. आपको बता दें ऑनलाइन लेनदेन के लिए बैंक अकाउंट नंबर के साथ बैंक का आईएफएससी कोड यानी इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड एड करना पड़ता है. तब कहीं जाकर आप ऑनलाइन लेनदेन कर पाते हैं.

आईएफएससी कोड 11 अंकों का होता है. आईएफएससी कोड में शुरू के चार अक्षर बैंक के नाम को दर्शाते हैं. आईएफएसी कोड का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक लेनदेन के लिए किया जाता है. बैंक की किसी भी शाखा को उस कोड के जरिए ट्रैक किया जा सकता है. इसको आप बैंक खाता और चेक बुक के जरिए पता कर सकते हैं.

Spread the love