लॉकडाउन के बाद ये IAS देंगी इस्तीफा, फेसबुक पर पोस्ट साझा कर दी जानकारी…. इससे पहले भी बताया था जान का खतरा, मची खलबली

चंडीगढ़ 23 अप्रैल 2020। पिछले कुछ समय से विवादों में रही  हरियाणा कैडर की आईएएस रानी नागर एक बार फिर सुर्खियों में हैं। 2014 बैच की इस अधिकारी ने नौकरी से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है। उत्तर प्रदेश की मूल निवासी रानी ने अपने फेसबुक अकाउंट पर गुरुवार सुबह लगभग पांच बजे पोस्ट डालकर इसकी जानकारी दी। इस पोस्ट के बाद अफसरशाही में हलचल मच गई है।

यूपी के गाजियाबाद की रहने वाली रानी नागर इस समय सामाजिक सुरक्षा विभाग में अतिरिक्त निदेशक के पद पर तैनात है। उन्होंने वीडियो जारी कर कहा है कि मैं यूटी गेस्ट हाउस में किराये पर रहती हूं। मेरी जान को खतरा है। अभी चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा हुआ है। इस कारण से मैं व मेरी बहन रीमा नागर चंडीगढ़ से बाहर नहीं निकल सकते। चंडीगढ़ से आगे मार्ग में गाजियाबाद तक रास्ते भी बन्द हैं। लॉकडाउन व कर्फ्यू खुलने के बाद मैं अपने कार्यालय में इस्तीफा देकर गाजियाबाद चले जाएंगे। मैंने चंडीगढ़ पुलिस के विरुद्ध एक मामला दर्ज करवा रखा है, यदि मुझे कुछ हो जाता है तो यह वीडियो मेरे केस में फाइल कर दिया जाए।

आईएएस ने अपने फेसबुक पेज में ये लिखा…
मैं रानी नागर, पुत्री रतन सिंह नागर निवासी गाजियाबाद, गांव बादलपुर, तहसील दादरी, जिला गौतमबुद्ध नगर। आप सभी को सूचित करना चाहती हूं, मैंने यह निर्णय लिया है कि आईएएस के पद से इस्तीफा दूंगी। अभी चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा हुआ है, इस कारण मैं व मेरी बहन रीमा नागर चंडीगढ़ से बाहर नहीं निकल सकते। चंडीगढ़ से आगे गाजियाबाद तक रास्ते भी बंद हैं। लॉकडाऊन व कर्फ्यू खुलने के बाद अपने कार्यालय में इस्तीफा देकर व सरकार से नियमानुसार अनुमति लेकर बहन रीमा नागर के साथ मैं वापस अपने पैतृक शहर गाजियाबाद आऊंगी। हम आपके आशीर्वाद व साथ के आभारी रहेंगे।

विवादों से जुड़ा रहा है कैरियर
रानी नागर ने वर्ष 2018 के दौरान एक आईएएस पर भी दुर्व्यवहार का आरोप लगाया था। यह मामला सीएम के दरबार में भी पहुंचा था। नागर ने एक कैब ड्राइवर पर भी अभद्रता का आरोप लगाया था। सिरसा जिला के डबवाली में एसडीएम पद पर रहते हुए उन्होंने अपनी जान को खतरा बताया था।

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!