comscore

केंद्रीय खाद्य मंत्री से मुलाकात में नहीं बनी बात…. अब चावल लेने के लिए मुख्यमंत्री करेंगे सीधे प्रधानमंत्री से बात … रायपुर लौटे, सीएम बोले- भेदभाव कर रही है केंद्र सरकार

रायपुर, 26 फरवरी 2021। छत्तीसगढ़ से सेंट्रल पुल में 40 लाख मीट्रिक चावल लेने की मांग केंद्र सरकार ने ठुकरा दी है। दिल्ली में केंद्रीय खाद्य मंत्री पियूष गोयल के साथ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे और खाद्य मंत्री अमरजीत भगत की मुलाकात का कोई निष्कर्ष नहीं निकला। केंद्रीय खाद्य मंत्री के इनकार के बाद अब मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जल्द ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात कर सकते हैं।

दिल्ली से मंत्रियों के साथ रायपुर लौटे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने केंद्र सरकार पर कांग्रेस शासित राज्यों के साथ भेदभाव का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि उम्मीद है कि प्रधानमंत्री से मुलाकात या फिर फोन पर ही चर्चा के बाद मामला सुलझ जायेगा। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि उम्मीद पर आसमान टिका है।

मुलाकात के दौरान बघेल ने खाद्य सब्सिडी की दावा राशि 5214.97 करोड़ की प्रतिपूर्ति जल्द किए जाने का आग्रह किया, जिस पर श्री गोयल ने बजट की राशि जारी होने पर 4832 करोड़ रूपए जारी करने का भरोसा दिलाया है। श्री बघेल ने कहा है कि प्रदेश में किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान का उपार्जन विकेन्द्रीकृत उपार्जन योजना के अंतर्गत खाद्य विभाग भारत सरकार के साथ हुए एमओयू के तहत की जाती है। इस दौरान उन्हांेने केंद्र सरकार से चावल उपार्जन पर पूर्व की 60 लाख मैट्रिक टन चावल केन्द्रीय पूल में लिये जाने की सैद्धांतिक सहमति पर अमल करते हुये एफसीआई में 40 लाख मैट्रिक टन चावल लेने के मांग की।

 

Spread the love