पूर्व गृहमंत्री के अल्टीमेटम पर मचा हड़कंप….. 24 घंटे के भीतर भाजपा नेता पिता-पुत्र गिरफ्तार….. एट्रोसिटी एक्ट का भी मामला जोड़ा गया…. देखिये पुलिस अफसर ने गिरफ्तारी पर क्या कहा..

कोरबा 7 सितंबर 2020। पूर्व गृहमंत्री के अल्टीमेटम के बाद पुलिस ने भाजपा नेता देवेंद्र पांडेय और उनके बेटे शुभम पांडेय को गिरफ्तार कर लिया है। आज सुबह घर से दोनों बाप-बेटे को पुलिस ने गिरफ्तार किया। दोनों के खिलाफ पुलिस ने पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर के बेटे संदीप कंवर की शिकायत के बाद FIR दर्ज किया था, बाद में संदीप कंवर के खिलाफ काउंटर FIR दर्ज किया गया था। हालांकि FIR के बावजूद किसी पक्ष की गिरफ्तारी नहीं हुई थी।

मामला उस वक्त गरमा गया, जब अपने बेटे के पक्ष में पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर ने पुलिस को अल्टीमेटम दे दिया। ननकीराम कंवर ने कहा था कि अगर 10 सितंबर तक देवेंद्र पांडेय व उनके बेटे शुभम पांडेय को गिरफ्तार नहीं किया गया तो वो सीएम हाउस के सामने जाकर धरने पर बैठ जायेंगे। इस अल्टीमेटम के बाद पुलिस महकमा हरकत में आया और आज सुबह दोनों की घर से गिरफ्तारी कर ली। पुलिस ने इस मामले में एट्रोसिटी एक्ट का भी मामला भी जोड़ा है।

ये है पूरा मामला

ननकीराम कंवर के बेटे संदीप कंवर के साथ पिछले दिनों भाजपा नेता देवेंद्र पांडे के घर पर मारपीट हो गयी थी। ननकीराम कंवर के बेटे संदीप कंवर ने सृष्टि मेडिकल कालेज में सदस्य बनने के लिए भाजपा नेता देवेंद्र पांडे को 20 लाख रूपये दिये थे। पैसे देने के बाद भी संदीप कंवर को सृष्टि मेडिकल कालेज में सदस्य नही बनाया। जिसे लेकर संदीप कंवर 26 अगस्त की शाम देवेंद्र पांडे से अपने पैसों की मांग करने उनके घर पहुंचा था। पूर्व गृह मंत्री का आरोप है कि देवेंद्र पांड और उसके बेटे ने संदीप कंवर को घर पर बंधक बनाकर पिटाई कर दी। घटना सामने आने के बाद रामपुर पुलिस ने संदीप कंवर की रिपोर्ट पर सामान्य मारपीट की धाराओं के तहत अपराध दर्ज कर लिया था, ननकीराम कंवर का आरोप है कि उनके हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 342 को जोड़ा गया, वही संदीप कंवर ने देवेंद्र पांडे और उसके बेटे के खिलाफ अजाक थाने में भी जातिगत गाली गलौच की शिकातय दर्ज कराई थी। वहीं देवेंद्र पांडेय व शुभम पांडेय की शिकायत पर संदीप के खिलाफ FIR दर्ज किया गया है।

Spread the love