कोरोना वायरस को लेकर जनता को और अधिक जागरूक करने की अत्यधिक आवश्यकता है

रायपुर, 7 जून 20290। समाजसेवी और राजनीतिक विश्लेषक प्रकाशपुन्ज पाण्डेय ने मीडिया के माध्यम से प्रशासन, छत्तीसगढ़ शासन और छत्तीसगढ़ की जनता को एक संदेश देते हुए कहा है कि आज जब कोरोना वायरस के पॉजिटिव आंकड़े दो लाख से ऊपर पहुंच गए हैं तथा छत्तीसगढ़ में भी रोज़ ही ये आंकड़े तेजी से बढ़ रहे हैं तो ऐसी सूरत में जब लगभग पूरा लॉकडाउन, अनलॉक हो गया है तब जनता को और अधिक जागरूक तथा आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार व प्रशासन को राजधानी रायपुर के गली मोहल्लों, चौक चौपाटी और छत्तीसगढ़ अन्य शहरों में जन जागरूकता अभियान चलाना चाहिए जिसके अंतर्गत बहुत से नए-नए कार्य किए जा सकते हैं। जैसे जगह जगह पर नुक्कड़ नाटकों के द्वारा कोरोना वायरस से बचाव और सतर्कता हेतु संदेश दिया जाए, बैनर पोस्टर होर्डिंग के जरिए संदेश दिया जाए, पुलिस प्रशासन की मदद करने के लिए जगह-जगह एनजीओ और वॉलिंटियर्स के माध्यम से कोरोनावायरस से बचाव के लिए उचित संसाधन उपलब्ध करवाकर जनता में जागरूकता फैलाने का काम करना चाहिए, साथ ही सब्जी मार्केट, किराना की दुकान, मिठाई की दुकान, व्यापारिक संस्थानों में जहां भीड़ ज्यादा तादाद में आती है, वहां पर दुकानदारों और आम जनों में भी जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत है क्योंकि आज भी अगर प्रशासन या शासन का कोई भी व्यक्ति अगर चाहे तो सुबह सब्जी बाजार चला जाए और मैं जो कहना चाहता हूं वह वो स्वयं ही अनुभव कर सकता है।

स्थिति यह है कि न सब्जी वालों ने मास्क पहना होता है, ना ही वहां पर जो लोग सब्जी खरीदने के लिए गए हैं, उन्होंने मास्क पहना होता है। कहीं ना कहीं यह सीधे तौर पर प्रशासन की चूक है और इस पर त्वरित प्रभाव से उचित दिशा में बिना किसी को तकलीफ़ पहुंचाते हुए कार्य करने की जरूरत है क्योंकि अनुशासन दबाव में या डरा धमका के नहीं लाया जा सकता है। यह तभी आएगा जब प्रत्येक व्यक्ति के अंतर्मन से यह आवाज़ उठे की समाज में प्रत्येक व्यक्ति की उतनी ही ज़िम्मेदारी बनती है, जितनी प्रशासन और सरकार की।

Spread the love

Get real time updates directly on you device, subscribe now.