comscore

28 लाख की चोरीः कोरोना काल में चोरो ने शराब से कलेक्शन हुये रूपयों में किया हाथ साफ, पूर्व कर्मचारी सहित नौ आरोपी गिरफ्तार…

बलौदाबाजार-भाटापारा 10 मई 2021। शराब दुकान से कलेक्शन हुये पैसों की चोरी मामले को पुलिस ने 72 घंटों के भीतर सुलझा लिया है। मामले में कंपनी के कर्मचारी सहित 9 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया है। साथ ही पुलिस ने आरोपियों के पास से चोरी की गई रकम भी जब्त कर ली है।
दरअसल मामला भाटापारा के कोतवाली थाना क्षेत्र का है। सीएमएस इन्फो सिस्टम लिमिटेड के छत्तीसगढ़ हेड़ नजीम खान ने कोतवाली थाना में चोरी की एक रिपोर्ट दर्ज करायी थी। शिकायत में बताया था कि, बलौदाबाजार-भाटापारा जिले में शराब ब्रिक्री से कलेक्शन हुये रूपयों को सीएमएस शाखा भाटापारा में रखा गया था। इस दौरान 3 मई को चोरों ने रूपयों से भरा हुआ दो बैग चोरी कर अपने साथ ले गये है। दोनों बैग में करीब 25 से 30 लाख रूपए थे।
शिकायत के बाद मामले को गंभीरता से लेते हुये एसपी इन्दिरा कल्याण एलेसेला ने जांच के आदेश दिये। जांच के दौरान कुछ सीसीटीवी फुटेज भी पुलिस को मिले थे, जिसमें दो युवक रूपयों से भरा हुआ बैग ले जाते हुये दिखायी दे रहे थे। इसी आधार पर कुछ संदेहियों को पकड़ा गया। संदेहियों में एक युवक सीएमएस कंपनी का पूर्व कर्मचारी निकला।
संदेही युवक से पुलिस ने जब कढ़ाई से पूछताछ की तो पता चला कि, कंपनी का पूर्व कर्मचारी मनोज देवांगन ही इस पूरे घटनाक्रम का मास्टर माइंड है। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि, उसने सीएमएस कंपनी के लाॅकर रूम की डुप्लीकेट चाबी बना कर 28 लाख 25 हजार की चोरी कर घटना को अंजाम दिया था। आरोपी के साथ इस घटना में कुल 9 लोग शामिल थे। फिलहाल आरोपी से पूछताछ के बाद सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।
पकड़े गये आरोपियों में मनोज देवांगन 23 वर्ष, मन्नू साहू 23 वर्ष, हरिशंकर 27, हेमंत देवांगन 23 वर्ष, राजा निर्मलकर 23 वर्ष, उमाकांत गुप्ता 30 वर्ष, मालिकराम देवांगन 32 वर्ष, छोटू साहू 20 वर्ष सहित एक नाबालिग भी शामिल है।

Spread the love