ट्रिपल मर्डर का चौकाने वाला सच : पति ने ही पत्नी व मासूम बच्चे की ले ली थी जान, खुद की पहचान छुपाने एक बेगुनाह की ले ली जान….. क्राइम पेट्रोल देखकर दिया वारदात को अंजाम….दूसरी पत्नी से छुटकारा पाने रची ऐसी साजिश, कि सुनकर रौंगटे हो जायेंगे खड़े

दुर्ग 22 जनवरी 2019। तालपुरी में ट्रिपल मर्डर में कई चौकाने वाले सच के साथ 24 घंटे के भीतर खुलासा हुआ है। पूरे वारदात का गुनाहगार महिला का पति ही निकला, जिसकी सनक ने ना सिर्फ अपनी पत्नी और मासूम को मौत की नींद सुला दिया, बल्कि एक ऐसे निर्दोष को भी मार डाला, जिसका दूर-दूर तक इस परिवार से कोई लेना देना नहीं था। पूरे वारदात के पीछे पति-पत्नी और वो की कहानी आ रही है। अपनी दूसरी पत्नी से छुटाकारा पाने के लिए ही शख्स ने इस बड़ी वारदात को अंजाम दिया। इस वारदात को आरोपी ने टीवी सीरियल क्राइम पेट्रोल देखकर अंजाम दिया था।

जानकारी के मुताबिक आरोपी पहले से शादी शुदा था, जिसकी जानकारी मृतिका को नहीं थी।  ये बात छुपाते हुये आरोपी ने मृतिका से दूसरी शादी की थी। जिसके बाद दोनों में किसी न किसी बात को लेकर विवाद होने लगा था। इस बात से परेशान होकर आरोपी ने टीवी शो क्राईम पेट्रोल देखकर पत्नी बच्ची और खुद की हत्या करने की खौफनाक योजना बनाई। आरोपी घटना को अंजाम देकर अपनी पहली पत्नी के साथ रहना चाहता था। आरोपी ने योजनाबद्ध तरीके से अपनी दूसरी पत्नी और बच्ची सहित तीन की हत्या कर उन्हें जला दिया और राउरकेला फरार हो गया था।  पुलिस ने अरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। 

एक काॅल ने पुलिस को पहुंचाया आरोपी तक

घटना भिलाई तालपुरी के इंटरनेशनल काॅलोनी की है। 21 जनवरी की सुबह पुलिस को सूचना मिली थी कि एक घर में चार माह की बच्ची और पति-पत्नी की अधजली लाश मिली है। साथ ही मृतकों के हाथ पैर रस्सी से बंधे हुये है। मृतकों के नाम रवि शर्मा, पत्नी मंजू शर्मा बताया गया था। पुलिस ने मामले को हत्या से जोड़कर जांच शुरू की। पुलिस ने आस-पड़ोस के लोगों और मृतिका महिला की माॅं से पूछताछ की तो पता चला 21जनवरी की सुबह छह बजे घटना की जानकारी मृतिका के मोबाइल से उसकी मां को दी गयी थी।

 ट्रिपल मर्डर से सनसनी : हत्या कर जला दी लाश…… संदिग्ध ने दरवाज़े पर छोड़ा संदेश….. हत्या कर फ़ोन से महिला की माँ को कहा “जल रहे हैं तेरी बेटी और उसका पति.. आकर देख ले”

इस आधार पर पुलिस ने काॅल लोकेशन खंगाला तो पता चला कि अज्ञात व्यक्ति के द्वारा रायपुर रेलवे स्टेशन से काॅल किया गया था। जांच के दौरान पुलिस को एक और महत्वपूर्ण बात पता चली कि मृतक व्यक्ति मंजू शर्मा का पति रवि शर्मा नहीं हैं, बल्कि कोई और ही है। पुलिस को संदेह हुआ कि इस तिहरे हत्याकांड में जरूर मृतक महिला के पति रवि शर्मा का ही हाथ होगा। संदेह पर पुलिस ने आरोपी रवि शर्मा की तलाश करते हुये उसे राउरकेला से गिरफ्तार किया। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उसी ने ही अपनी दूसरी पत्नी सहित तीन लोगों की हत्या कि थी और हत्या के बारे में पता न चले इसके लिये शव को जला दिया था। पुलिस को गुमराह करने के लिये घटना स्थल पर आरोपी ने चाॅक से हत्या का कारण रंजिश लिखा और हत्या करने वाले का नाम संजय देवांगन बताया था ताकि पुलिस हत्या के आरोपी को तलाश करती रहे।

टीवी शो क्राईम पेट्रोल देखकर आरोपी ने बनायी थी पत्नी-बच्ची की हत्या की साजिश

आरोपी ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि उसने दो शादी की थी। आरोपी रवि शर्मा बिहार का रहने वाला हैं और उसने 2005 में धनबाद की युवती से शादी की थी। आरोपी के दो बच्चे भी है। रवि पेशे से बढ़ई का काम करता हैं और काम के संबंध में 2015 में रायपुर आया था, उस दौरान मंजू सूर्यवंशी से इसकी जान पहचान हुई और प्रेम संबंध स्थापित हो गया। आरोपी जब भी दुर्ग भिलाई आता तो महिला से मिलता था। महिला भी शादी शुदा थी, इसके बावजूद आरोपी रवि शर्मा ने महिला से 2017 में मंदिर में जाकर शादी कर ली। शादी के बाद खर्चे को लेकर दोनों में विवाद होने लगा। इस बात से परेशान होकर आरोपी ने टीवी सिरियल क्राईम पेट्र्ोल देखकर अपने पत्नी-बच्चे और खुद की हत्या की खौफनाक साजिश रच डाली।

शराब के लालच में बेगुनाह व्यक्ति की जान गयी

आरोपी रवि शर्मा ने टीवी सिरियल क्राइम पेट्रोल के आधार पर हत्या की योजना बनायी। योजनाबद्ध तरीके से रवि ने पहले नींद की गोली खरीदी। उसके बाद अपने कद काठी का एक व्यक्ति की खोज की। सिविक सेंटर शराब भटटी में रवि ने एक व्यक्ति से जान पहचान कर उसे शराब पिलाई और शराब पिलाने का लालच देकर उसे अपने घर रात में लाया। जहां रात में नींद की गोली मिलाकर उसे शराब पिला दी। आरोपी ने पत्नी को ये बताया कि वो व्यक्ति उसका दोस्त है और उसकी शादी के बारे में ब्लेकमेल करता है। साथ ही रोज शराब पिलाने के लिये कहता है। इसे मारना जरूरी है, नही तो वे लोग साथ में नहीं रह पाएंगे। इसके बाद आरोपी ने अपनी पत्नी के साथ बेसुध पड़े व्यक्ति की गला दबाकर हत्या कर दी।

पत्नी और चार माह की बच्ची को भी उतारा मौत के घाट

आरोपी ने 20 जनवरी की रात में ही पत्नी के पानी में नींद की गोली मिलाकर उसे पिला दिया और गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी ने अपनी चार माह की बच्ची को भी मौत के घाट उतार दिया। हत्या के बाद आरोपी महिला और युवक के शव को सिलेंडर गैस से आग लगा दिया। आरोपी ने बड़े ही शातिर तरीके से इस पूरी घटना को अंजाम दिया था।

Spread the love