comscore

रिहा जवान की तस्वीर आयी सामने…..एंबुलेंस में बासागुड़ा पहुंचा जवान… 20 गांव के ग्रामीणों की मौजूदगी में छोड़ा गया जवान को

बीजापुर 8 अप्रैल 2021। ….आखिरकार CRPF का किडनैप जवान राकेश्वर सिंह मनहास को नक्सलियों ने छोड़ दिया है। 20 गांव के ग्रामीणों की मौजूदगी में कोबरा कमांडों राकेश्वर सिंह को नक्सलियों ने आजाद किया।

आपको बता दें कि रूखमणि सेवा संस्थान के प्रमुख  पद्मश्री धर्मपाल सैनी और गोंडवाना समाज के अध्यक्ष तेलम बोरैया को नक्सलियों ने जवान को सौपा। शाम करीब 4 बजे जवान को सौंपा गया।

जवान अब बासागुड़ा पुलिस थाना पहुंच गया है। एंबुलेंस से पहुंचे जवान का अब मेडिकल चेकअप होगा, जिसके बाद उसे पहले जगदलपुर और फिर बाद में रायपुर लाया जा सकता है। 

जवान की तस्वीर सबसे सामने आयी है।  रिहाई के बाद मध्यस्थता करने गई टीम जवान को लेकर बासागुड़ा लौट रही है।

जवान की रिहाई के लिए मध्यस्ता कराने गयी दो सदस्यीय टीम के साथ बस्तर के 7 पत्रकारों की टीम भी मौजूद थी। नक्सलियों के बुलावे पर जवान को रिहा कराने बस्तर के बीहड़ में वार्ता दल समेत कुल 11 सदस्यीय टीम पहुंची थी।

आपको बता दें कि 3 अप्रैल को बीजापुर के तर्रेम में हुए नक्सली मुठभेड़ के बाद से ही सीआरपीएफ के जवान राकेश्वर सिंह का कोई पता नहीं था। राकेश्वर सिंह के कब्जे में होने की बात नक्सलियों ने कबूली थी। तस्वीर भी नक्सिलियों ने जारी की थी। आपको बता दें कि इस हमले में 22 जवान शहीद हो गये थे।

Spread the love