पंचायत मंत्री टीएस सिंहदेव ने हड़ताली पंचायत सचिवों से काम पर लौटने फिर किया आग्रह, बोले…मांगे पूरी करने लायक राज्य की अभी स्थिति नहीं

रायपुर,22 जनवरी 2021। पंचायत सचिवों और रोज़गार सहायकों के आंदोलन को लेकर स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव ने आग्रह दोहराया है कि, आंदोलन प्रजातंत्र में बात कहने का तरीक़ा है लेकिन वे सभी जवाबदेह साथी हैं उन्हें समझना चाहिए कि, यदि स्थिति ठीक होती तो सरकार क्यों मना करती।
प्रदेश में पंचायत सचिव और रोज़गार सहायक आंदोलनरत हैं, पंचायत सचिव शासकीयकरण की एक सूत्रीय माँग है जबकि रोज़गार सहायक तीन सूत्रीय माँग पर अड़े हुए हैं।
स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री टी एस सिंहदेव ने कहा-
“मैंने निवेदन पहले भी किया था आज भी किया कि स्थिति ऐसी नहीं दिख रही है सरकार की.. कि माँगे पूरी की जा सके.. राज्य सरकार की स्थिति नहीं है..बीस हज़ार करोड़ से ज़्यादा की आमदनी टूटी है राज्य सरकार की..तो केवल रोज़गार सहायक नहीं है..केवल पंचायत सचिव नहीं है और भी बहुत से शासकीय कर्मचारी है.. स्वास्थ्य कर्मी पटवारी सभी है.. सबकी माँगे हैं.. जो कहा उसे ना तो भूले हैं ना छोड़ें है आज समय नहीं है परिस्थिति नहीं है ऐसी कि दी जा सके.. जवाबदेह साथी हैं उन्हें समझना चाहिए..आख़िर सरकार क्यों मना करती यदि स्थिति ठीक होती”

Spread the love