राजभवन के नए सिकेट्री अमृत खलको की आज ज्वाईनिंग नहीं हो पाई, राजभवन से लौटे बैरंग, मंत्रालय में दी ज्वाईनिंग

0 राजभवन की डिप्टी सिकेट्री रोक्तिमा राय हटाई गईं, उन्हें मंत्रालय भेजा गया

रायपुर, 15 अक्टूबर 2020। राजभवन के नियुक्त किए गए नए सचिव अमृत खलको की आज राजभवन में ज्वाईनिंग नहीं हो पाई। बस्तर कमिश्नर से रिलीव होकर खलको आज 11 बजे राजधानी पहुंच गए थे। राज्यपाल अनसुईया उइके से दिन में दो बार मुलाकात करने के बाद भी ज्वाईन नहीं कर पाए।
ज्ञातव्य है, राज्य शासन ने कल दोपहर राजभवन के सचिव सोनमणि बोरा को हटाकर अमृत खलको को नया सचिव नियुक्त कर दिया था। खलको ने कल ही राजभवन को इसकी सूचना भेज दी थी कि वे कल ज्वाईन करने पहुुंच रहे हैं।
खलको जगदलपुर से सीधे मंत्रालय पहुंचे। वहां उन्होंने सचिव कृषि के पद पर ज्वाईनिंग दी। मंत्रालय से वे सीधे राजभवन पहुंचे। राजभवन सिकेट्री का उनका अतिरिक्त प्रभार है। दोपहर से लेकर शाम तक वे दो बार राज्यपाल से मिले। मुलाकात में उनकी क्या बात हुई, राज्यपाल ने उनसे क्या कहा…इसका अभी खुलासा नहीं हुआ है। राजभवन के सूत्र सिर्फ यह बता रहे कि खलको की राज्यपाल से दो बार मुलाकात हुई। लेकिन, इसके आगे कोई बोलने के लिए तैयार नहीं है। अपुष्ट खबर ये है कि राजभवन ने फिलहाल नए सचिव को ज्वाईन करने से रुकने की सलाह दी है।
ज्ञातव्य है, अमृत खलको की नियुक्ति के बाद राज्यपाल अनसुईया उइके ने कल रात में ही सरकार को पत्र भेजकर पूर्णकालिक सचिव की मांग की थी। राज्यपाल ने लिखा कि सचिव का पेनल भेजा जाए, इसके बाद उनकी सहमति के अनसुार सचिव नियुक्त किया जाए। हालांकि, राज्यपाल के पत्र का सरकार ने अभी कोई जवाब नहीं दिया है।
सरकार ने उधर, राजभवन की डिप्टी सिकरेट्री रोक्तिमा राय को भी हटा दिया है। केडी कुंजाम को कल ज्वाइंट सिकेट्री नियुक्त किया गया। इसके बाद एक अलग से आदेश निकालकर रोक्तिमा को डिप्टी सिकेट्री कृषि और सामान्य प्रशासन विभाग बना दिया गया। हालांकि, राजभवन में डिप्टी सिके्रट्री का पद नहीं होता। ज्वाइंट सिकेट्री होता है। डिप्टी सिकरेट्री रोक्तिमा लंबे समय से वहां पोस्टेड थी।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.