fbpx

PM मोदी के साथ मुख्यमंत्रियों की बैठक खत्म….बोले- लॉकडाउन का लाभ मिला, सामूहिक प्रयास का दिखा असर…. लंबी है लड़ाई, धैर्य रखना जरूरी

नयी दिल्ली 27 अप्रैल 2020। 3 मई के बाद लॉकडाउन रहेगा या फिर खत्म होगा ?…आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य से मुख्यमंत्रियों से चर्चा की। हालांकि इस वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान एक-दो मुख्यमंत्री शामिल नहीं हुए। प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों के साथ चर्चा में कोरोना के हालात में लॉकडाउन के फैसले को उचित बताया।

उन्होंने कहा कि राज्यों और केंद्र के सामूहिक प्रयासों का असर दिख रहा है। इसका फायदा भी देश को मिला है। उन्होंने कहा कि पूरी दुनिया में लॉकडाउन में भारत में ये फैसला सबसे ज्यादा कारगर रहा। कांफ्रेंसिंग में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी शामिल हुए।

स्वास्थ्य मंत्री  टी. एस. सिंहदेव, गृह मंत्री  ताम्रध्वज साहू, मुख्य सचिव आर.पी. मण्डल, पुलिस महानिदेशक  डी.एम. अवस्थी, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव  सुब्रत साहू, स्वास्थ्य विभाग की सचिव  निहारिका बारिक सिंह, मुख्यमंत्री की उप सचिव सौम्या चौरसिया इस अवसर पर उपस्थित थीं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि दूसरे देशों की तुलना में भारत बेहतर स्थिति में है। तमाम राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने इस दौरान पीएम मोदी को सुझाव दिये, इनमें से कुछ राज्य लॉकडाउन को बढ़ाने के पक्ष में दिखे।उन्होंने लॉकडाउन पर राज्यों को संयम का मंत्री भी दिया।

समझा जाता है कि बैठक में देश को लॉकडाउन से चरणबद्ध तरीके से बाहर लाने के उपायों पर भी विचार विमर्श हुआ। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए देश में 25 मार्च से दो चरण में लॉकडाउन लागू किया गया है। देश में कोरोना संकट की शुरुआत के बाद 22 मार्च से अब तक प्रधानमंत्री मोदी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ चार बार वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये बैठक कर चुके हैं।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.