comscore

गृहमंत्री और मुख्यमंत्री ने की नक्सल हमले के बाद हालात की समीक्षा….अमित शाह बोले- लड़ाई और तेज होगी, हमारी जीत निश्चित है…..मुख्यमंत्री बोले- हम नक्सलियों के मांद तक पहुंचे, उनके इलाके में कैंप बनाने का काम जारी रहेगा

रायपुर 5 अप्रैल 2021। बीजापुर नक्सली हमले के बाद गृहमंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज अफसरों की बड़ी बैठक ली। करीब डेढ़ घंटे की बैठक में नक्सल रणनीति के साथ-साथ केंद्र और राज्य के सुरक्षा बलों के समन्वय पर चर्चा की गयी। बैठक के बाद पत्रकारों से चर्चा करते हुए गृहमंत्री अमित शाह ने फिर दोहराया कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई निर्णायक मोड़ पर है। लड़ाई को अंजाम तक पहुंचायेंगे, इस लड़ाई में नक्सलियों के खिलाफ हमारी जीत निश्चित है। गृहमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ की जनता को विश्वास दिलाना चाहता हूं कि इस घटना के बाद लड़ाई को और तेज करेंगे और जीत में बदलेंगे।

गृहमंत्री ने कहा कि जो जवान शहीद हुए हैं उनके परिजनों को एक बात कहना चाहता हूं कि…. आपके भाई ने, आपके पति ने, आपके बेटे ने जो शहादत दिया है उसे भूलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने सर्वोच्च बलिदान दिया है, उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जायेगा।

वहीं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजापुर की घटना बेहद दुखद बताया है। शहीद जवान को नमन करते हुए उन्होंने कहा कि हमारे जवानों ने बहादूरी से मुकाबला किया है और बहुत बहादूरी से लड़ाई लड़ी। वहां युद्ध जैसे हालात थे। उन्होंने कहा कि  मिनपा की घटना से आगे बढ़कर हमने नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई लड़ी। चार ट्रैक्टर में नक्सली लाश लेकर गये हैं। नक्सलियों के गढ में लगातार कैंप खुल रहे हैं। कैंप खुलने की बौखलाहट है, बहुत जल्द ही और भी कैंप खुलेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र के साथ समन्वय बना हुआ है, हमने डिमांड केंद्र से रखी है, उम्मीद है जरूर समन्वय के साथ काम होगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गृहमंत्री ने बताया है कि कोरोना की वजह से मांगों को पूरा करने में कुछ विलंब हुआ है, लेकिन अब जल्द ही उन तमाम मांगों को पूरा किया जायेगा।

Spread the love