अमेरिकियों के नाम दर्ज शर्मनाक रिकॉर्ड, महज 35 रन पर पूरी टीम सिमटी, नेपाल ने रचा इतिहास…

नईदिल्ली 12 फरवरी 2020। राजधानी काठमांडू में बुधवार को संयुक्त राज्य अमेरिका (USA) की टीम को महज 35 रन पर ऑल आउट करते हुए नेपाल क्रिकेट टीम ने इतिहास रच दिया। यह वन-डे क्रिकेट इतिहास का संयुक्त दूसरा सबसे छोटा टोटल है। इस वजह से 50-50 ओवर का यह मैच मात्र 17.2 ओवर में ही पूरा हो गया। इससे पहले 2004 में श्रीलंका ने जिम्बॉब्वे को भी 35 रन पर समेटा था।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

पुरुषों के आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप लीग 2 के 30वें मुकाबले में यह अद्भुत रिकॉर्ड बना। त्रिभुवन यूनिवर्सिटी इंटरनेशनल क्रिकेट ग्राउंड कीर्तिपुर (नेपाल) में खेल गए इस मैच में अमेरिकी टीम 12 ओवरों में 35 रनों पर सिमट गई। नेपाल के स्टार लेग स्पिनर संदीप लामिछाने ने 16 रन देकर 6 विकेट निकाले (6-1-16-6), जबकि एक और स्पिनर सुशान भारी ने 5 रन देकर 4 विकेट चटकाए (3-1-5-4)।

नेपाल ने पहले गेंदबाजी करते हुए अमेरिकी क्रिकेट टीम को महज 35 रनों पर ऑलआउट कर दिया। इस तरह से अमेरिका ने वनडे इंटरनेशनल इतिहास का सबसे कम स्कोर बनाने के मामले में जिम्बाब्वे की बराबरी कर ली। अमेरिकी टीम 12 ओवर में 35 रनों पर ऑलआउट हुई और नेपाल ने 5.2 ओवर में दो विकेट गंवाकर 36 रन बनाकर मैच आठ विकेट से जीत लिया।

इस तरह से यह मैच कुल 17.2 ओवर का हुआ और वनडे इंटरनेशनल इतिहास का सबसे छोटा मैच हो गया। इससे पहले 2004 में हरारे मे श्रीलंका क्रिकेट टीम ने जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम को 35 रनों पर ऑलआउट किया था। जिम्बाब्वे की टीम 18 ओवर में ऑलआउट हुई थी और श्रीलंका ने 9.2 ओवर में एक विकेट पर 40 रन बनाकर मैच 9 विकेट से जीता था। वहीं इस मैच की बात करें तो अमेरिका के 9 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके थे। जेवियर मार्शल ने सबसे ज्यादा 16 रनों की पारी खेली थी।

नेपाल की ओर से स्टार स्पिनर संदीप लामिछाने ने 16 रन देकर छह विकेट लिए, जबकि सुहान भरी ने 5 रन देकर चार विकेट झटके। नेपाल की ओर से पारस खडका ने नॉटआउट 20 और दीपेंद्र सिंह ने नॉटआउट 15 रनों की पारी खेली। दीपेंद्र ने छक्के के साथ नेपाल को जीत दिलाई।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.