संविलियन अधिकार मंच की पहल का हुआ असर… प्रान की दिक्कतों को लेकर संचालक ने जारी किया स्पष्ट निर्देश…. संविलियन से पहले सेवा पुस्तिकाओं का भी होगा संधारण

रायपुर 12 अक्टूबर 2020। प्रदेश में 2 वर्ष की सेवाअवधि पूर्ण कर चुके सभी शिक्षाकर्मियों का संविलियन 1 नवंबर को होना है लेकिन पिछली समस्याओं से सीख लेकर शिक्षाकर्मी लगातार अधिकारियों को अपनी समस्याओं से अवगत करा रहे हैं । संविलियन अधिकार मंच ने पंचायत संचालक समेत अन्य अधिकारियों को पत्र लिखकर अपनी समस्याओं से अवगत कराया था ।

जिसके बाद पंचायत संचालक ने सभी जिला पंचायत सीईओ और जनपद पंचायत सीईओ को निर्देशित करते हुए कहा है कि जिन शिक्षाकर्मियों के प्रान नंबर आवंटित नहीं हुए हैं उनका प्रान अकाउंट तत्काल जनरेट करें। साथ ही जिन शिक्षाकर्मियों के प्रान अकाउंट बन गए हैं किंतु उनकी राशि उनके खाते में नहीं डाली गई है उनकी राशि भी तत्काल उनके प्रान अकाउंट में डालने को कहा गया है।

इसके अतिरिक्त शिक्षाकर्मियों ने सेवा पुस्तिका को लेकर भी अपनी समस्या से संचालक को अवगत कराया था इसके लिए भी संचालक ने निर्देश जारी किए हैं और संविलियन से पहले समस्त शिक्षाकर्मियों के सेवा पुस्तिका का अनिवार्य रूप से संधारण करने का निर्देश जारी किया है ।

शासन प्रशासन का मिल रहा भरपूर सहयोग – विवेक दुबे

इस मुद्दे पर संविलियन अधिकार मंच के प्रदेश संयोजक विवेक दुबे ने कहा है की

” हम अपनी समस्याओं से लगातार उच्च अधिकारियों को अवगत करा रहे हैं और हमें निरंतर उनका सहयोग मिल रहा है निचले कार्यालयों से कुछ दिक्कतें हो रही हैं जिसे दूर करने के लिए कुछ अधिकारी स्पष्ट आदेश जारी कर रहे हैं जिसके लिए हम उनके आभारी हैं और हमें पूरा विश्वास है कि संविलियन सही समय पर और सही तरीके से संपन्न होगा । “

Get real time updates directly on you device, subscribe now.