comscore

जर्जर स्कूल पर DPI ने जारी किया सख्त आदेश…….तीन महीने में दुरूस्त करायें भवन…. खस्ताहाल भवनों को गिराया भी जायेगा..

रायपुर 24 फरवरी 2021। प्रदेश के सैंकड़ों स्कूल अभी भी जर्जर हालत में है। कईयों की स्थिति तो इतनी बुरी है कि कभी भी भरभराकर गिर सकते हैं। कई दफा छोटे-मोटे हादसे भी हुए हैं, लेकिन जिम्मेदारों ने कभी इसे गंभीरता से नहीं लिया है। अब डीपीआई जितेंद्र शुक्ला ने जर्जर स्कूलों को संज्ञान लिया और सभी कलेक्टर व डीईओ को निर्देश जारी कर जर्जर भवनों में चले स्कूलों के मरम्मत के निर्देश दिये हैं। साथ ही ये भी कहा है कि अगर कोई भवन नहीं मरम्मत हो पाता है कि तो सक्षम अधिकारी से अनुमति देकर उसे ढाहने की प्रक्रिया शुरू करें।

 

दरअसल जर्जर स्कूल और भवनहीन स्कूलों का मुद्दा कई बार विधानसभा में भी गरमा चुका है। दरअसल बरसात में जर्जर भवनों में खतरा ज्यादा बढ़ जाता है, लिहाजा डीपीआई जितेंद्र शुक्ला ने बरसात पूर्व तीन महीने के भीतर भवनों के मरम्मत के निर्देश दिये हैं।

 

अपने आदेश में डीपीआई ने कहा है कि…

परिसर में स्थित जर्जर व अति जर्जर भवनों का तकनीकी निरीक्षण कराकर यह सुनिश्चित कर लिया जाये कि जो भवन मरम्मत योग्य है एवं मरम्मत पश्चात उपयोग में लाये जा सकते हैं उनकों स्थानी स्त्रोत जैसे डीएमएफ, सीएरआर व विभाग से उपलब्ध राशि से तीन माह के भीतर उचित मरम्मत कराया जाये, ऐसे भवन जो मरम्मत योग्य नहीं है, एवं जिनसे छात्रों की सुरक्षा प्रभावित हो सकता है, उक्त भवनों को नियमानुसार सक्षम प्राधिकारी से अयोग्य घोषित कराते हुए उन्हें गिराने की कार्यवाही की जाये

Spread the love