छत्तीसगढ़ में कोरोना से बचायेगा काढ़ा : इस जिले में पिलाया जा रहा है सामूहिक काढ़ा…. जेल भी कैदियों को पिलाया जायेगा ..आप भी घर में तैयार कर सकते हैं इसे

बलौदाबाजार,19 मई 2020।  जिला अस्पताल में आज जनजागरूकता के लिए आयुष विभाग द्वारा आयुर्वेद जड़ी बूटियों से निर्मित काढ़ा पिलाया गया। कोरोना बीमारी के खिलाफ रोग प्रतिरोधक क्षमता (इम्यूनिटी) विकसित करने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा काढ़ा सेवन  की अनुशंसा की गई है। सिविल सर्जन डॉ. ए.एस परिहार ने सबसे पहले काढ़ा पीकर इसका शुभारंभ किया। इसके बाद कोरोना की लड़ाई में लगे स्वास्थ्य कर्मी, मरीज एवं उनके परिजनों को काढ़ा पिलाया गया। उन्हें अगले तीन सप्ताह के लिए काढ़ा बनाने की चूर्ण भी निःशुल्क वितरित की गई।

जिला अस्पताल में आयुष विंग के चिकित्सक डॉ. आर.के.बंजारे ने स्वस्थ रहने में आयुर्वेद काढ़ा की महिमा समझाई। उन्होंने बताया कि आगामी एक महीने तक जिला अस्पताल में सवेरे 11 बजे निःशुल्क काढ़ा पिलाया जायेगा। डॉ. बंजारे ने बताया कि जेल में भी आज काढ़ा तैयार कर कैदियों को सेवन कराया गया। उन्होंने शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिये आयुर्वेदिक उपायों की जानकारी देते हुये प्रतिदिन गरम पानी सेवन की सलाह दी है। 

इसके अलावा प्रतिदिन आधे घण्टे तक योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान करना चाहिये। भोजन में हल्दी, जीरा, धनिया, लहसुन एवं मसालों का समावेश किया जाये। गरम दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर दिन में एक या दो बार सेवन करना चाहिये।काढ़ा सेवन कार्यक्रम में बाकायदा फिजिकल डिस्टेंसिग के नियमों का पालन किया गया। इस अवसर पर सेवानिवृत्त प्राचार्य श्री एस.एम.पाध्ये, वरिष्ठ नागरिक श्री एम.डी.मानिकपुरी सहित सैकड़ों की संख्या में लोगों ने काढ़े का नियमित सेवन करने का संकल्प लिया।

Spread the love