73 साल का दुल्हा….67 की दुल्हन…..50 साल से लिविंग में रह रहे जोड़े की बच्चों ने करायी शादी…. बेटी-नाती-नातिन बनी घराती….और बेटे-पोते-पोतियां बने बाराती

कवर्धा 16 फरवरी 2020। कवर्धा में शनिवार रात अनूठी शादी हुई। 73 साल का दुल्हा था, 67 साल की दुल्हन थी और बाराती बने थे बेटे-बेटियां और नाती-पोते। शादी के बंधन में बंधे ये जोड़ा पिछले 50 सालों से लिव-इन-रिलेशन में रह रहा था। बच्चों की जिद के बाद अब बुढ़ापे में दोनों की शादी करा दी गयी। सोशल मीडिया में ये शादी खूब वायरल हो रही है।

ये पूरा मामला कवर्धा के खैरझिटीकला गांव का है। जहां बुजुर्ग दंपत्ति का रीति-रिवाजों के साथ शादी करा दी गयी। दुल्हे का नाम सुकाल निषाद है, जबकि दुल्हन का नाम गौतरहिन बाई है। दोनों 50 साल से साथ थे। सुकाल मजदूरी करता है और शादी और भोज का बोझ नहीं उठा पाने की वजह से शादी नहीं कर पाया था। बिना शादी किये ही वो गौतरहिन के साथ रह रहा था।

बुजुर्ग लिविंग में तो रह रहा था, लेकिन उसकी भी ख्वाहिश थी कि वो एक दिन शादी के बंधन में बंधे, सालों गुजरने के बाद इस शनिवार को दोनों की तमन्ना पूरी हो गयी। दरअसल सुकाल निषाद आज से करीब 50 साल पहले बेमेतरा जिले में शादी के लिए लड़की देखने गये थे, लेकिन जिस लड़की को देखने वो गये थे, वो उन्हें पसंद नहीं आयी, बल्कि उसकी छोटी बहन पर सुकाल का दिल आ गया। दोनों गुपचुप मिलने लगे…शादी के लिए परिवार राजी नहीं था अकेले शादी का खर्च उठाने की क्षमता नहीं थी, लिहाजा दोनों ने लिविंग में रहना शुरू कर दिया। इस दौरान दोनों के 2 बेटे और 1 बेटी हुई। बिना शादी के ही दोनों रहने लगे। हालांकि दोनों की इच्छा शादी की बनी रही।

इधर बच्चों को जब ये जानकारी हुई तो सभी ने मिलकर दोनों की शादी कराने का फैसला किया। शनिवार रात दोनों की शादी हो गयी।

Spread the love
error: Content is protected By NPG.NEWS!!