सदी का सबसे बड़ा तूफान “अम्फान” दोपहर बाद मचा सकता है तबाही….. करीब 200 किलोमीटर की रफ्तार से चलेगी हवाएं….बारिश भी होगी, छत्तीसगढ़ में भी दिखेगा असर

नयी दिल्ली 20 मई 2020। सुपर साइक्लोन ‘अम्फान’ के आज पश्चिम बंगाल के तट पर टकराने की संभावना है. इस दौरान 155 से 185 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार होगी। मौसम वैज्ञानिकों का अनुमान है कि तूफान बड़ी तबाही मचा सकता है। इस तूफान से सबसे ज्यादा बंगाल और उड़ीसा में तबाही मचेगी। जाहिर है कि इस तूफान से पड़ोसी राज्यों को भी बड़ा नुकसान होगा। इस दौरान आंधी-तूफान के साथ भारी बारिश का अनुमान है। भारत मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक इस दौरान बंगाल के तटीय जिलों में भारी बारिश होगी और समुद्र में चार-पांच मीटर ऊंची लहरें उठेंगी।

मौसम विभाग के अनुसार यह चक्रवात उत्तर और उत्तर पश्चिम दिशा में काफी रफ्तार में आगे बढ़ रहा है. अनुमान है कि इसकी गति अभी और बढ़ेगी। साइक्लोन अम्फान आज दोपहर तक पश्चिम बंगाल के दीघा और बांग्लादेश के हादिया में टकरा सकता है।ओडिशा के पारादीप में कल रात से हवा और बारिश की रफ्तार बढ़ गई है। चक्रवाती तूफान अम्फान (Cyclone Amphan) पारादीप से लगभग 125 किमी दक्षिण-पूर्व में है, जबकि पारादीप इलाके में ताजा जानकारी के मुताबिक 106 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ्तार से तेज हवा चल रही है।

बंगाल और ओडिशा में तेज हवाएं और बारिश शुरू हो गई है. 15 मई को विशाखापट्टनम से 900 किलोमीटर दूर दक्षिणी बंगाल की खाड़ी की कम दबाव और गहरे निम्न दबाव का क्षेत्र बननाा शुरू हुआ. 17 मई को जब अम्फान दीघा से 1200 किलोमीटर दूर था, तब यह साइक्लोन में बदल गया.18 मई की शाम Amphan Cyclone सुपर साइक्लोन में बदल गया. मंगलवार दोपहर को इसकी गति 200-240 किमी प्रतिघंटा की हवाओं के साथ चरम तक पहुंच गया है. यहीं पर यह सदी का सबसे बड़ा और भयानक तूफान बन गया.

Spread the love