टीम इंडिया ने लगाई हार की हैट्रिक, 31 साल बाद भारत का वनडे में क्लीन स्वीप, न्यूजीलैंड ने पांच विकेट से जीता मैच…

नईदिल्ली 11 फरवरी 2020। न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ तीन मैचों की वनडे इंटरनेशनल सीरीज 3-0 से अपने नाम कर ली। सीरीज का आखिरी मैच न्यूजीलैंड ने पांच विकेट से जीता। माउंट मॉनगनुई में खेले गए आखिरी वनडे इंटरनेशनल मैच में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवर में सात विकेट पर 296 रन बनाए। जवाब में न्यूजीलैंड ने 47.1 ओवर में पांच विकेट पर 300 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया। टीम इंडिया के तेज गेंदबाजों ने इस मैच में काफी निराश किया।

वाट्सएप पर अपडेट पाने के लिए कृपया क्लीक करे

केएल राहुल की सेंचुरी, श्रेयस अय्यर की हाफसेंचुरी और युजवेंद्र चहल की शानदार गेंदबाजी बेकार गई और भारत को हार झेलनी पड़ी। न्यूजीलैंड की ओर से हेनरी निकोल्स ने 80। हामिश बेनेट ने चार विकेट लिए।

मार्टिन गप्टिल ने 66, कोलिन डि ग्रैंडहोम ने नाबाद 58 और टॉप लाथम ने 32 रनों की पारी खेली। भारत के लिए युजवेंद्र चहल ने तीन और शार्दुल ठाकुर तथा रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिए।

80 रनों की शानदार पारी खेलने वाले कीवी सलामी बल्लेबाज हेनरी निकोल्स मैन ऑफ द मैच रहे, जबकि सीरीज में बेहतरीन बल्लेबाजी (तीन मैचों में 194 रन) के लिए अनुभवी रॉस टेलर प्लेयर ऑफ द सीरीज चुने गए। वह दो बार नॉट आउट रहे और उनका एवरेज 194.00 का रहा।

पहला वनडे न्यूजीलैंड ने 4 विकेट से जीता था. इसके बाद दूसरे वनडे में भी कीवी टीम ने भारत को हरा सीरीज में 2-0 से अजेय बढ़त हासिल की थी। न्यूजीलैंड ने आखिरी मैच को भी जीतकर टीम इंडिया का व्हाइट वॉश कर दिया। 31 साल बाद तीन या उससे ज्यादा मैचों की वनडे सीरीज (जब सीरीज के सभी मैच खेले गए) में भारत को व्हाइट वॉश का सामना करना पड़ा है।

टीम इंडिया के लिए राहुल के अलावा पृथ्वी साव ने 40 (42 गेंद, 3 चौके, 2 छक्के), श्रेयस अय्यर ने 62 (63 गेंद, 9 चौके) और मनीष पांडेय ने 42 (48 गेंद, 2 चौके) रनों का योगदान दिया। हालांकि क्लीन स्वीप से बचने के लिए उतरी भारतीय टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसने 8 रन के कुल योग पर ही अपने सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल (1) को गंवा दिया। मयंक को जेमीसन ने बोल्ड किया।

कप्तान विराट कोहली (9) भी कुछ खास नहीं कर पाए और 32 के कुल योग पर हामिश बेनेट की एक गेंद को छक्के के लिए क्लीयर करने के प्रयास में जेमीसन द्वारा सीमा रेखा पर लपके गए। कोहली ने 12 गेंदों का सामना कर एक छक्का लगाया। साव अच्छा खेल रहे थे लेकिन 13वें ओवर की पहली गेंद पर उनके तथा अय्यर के बीच तालमेल की कमी हुई और उन्हें रन आउट होकर इसकी कीमत चुकानी पड़ी। साव का विकेट 62 के कुल योग पर गिरा।

न्यू जीलैंड को बड़ा लक्ष्य देने का इरादा नाकाम होता दिख रहा था। अब पारी संभालने की जिम्मेदारी अय्यर और राहुल के कंधों पर थी। दोनों ने संयम के साथ पारी को आगे बढ़ाना शुरू किया। इसी बीच अय्यर ने अपना अर्धशतक पूरा किया। अय्यर काफी संयोजित नजर आ रहे थे लेकिन 162 के कुल योग पर जेम्स नीशम की एक गेंद पर खराब शॉट खेलकर वह अपना विकेट गंवा बैठे।

अय्यर के जाने के बाद राहुल ने अपना अर्धशतक पूरा किया। उन्होंने मनीष पांडे के साथ काफी अच्छी साझेदारी की। इन दोनों ने भारत को 200 रनों के पार पहुंचाया। राहुल ने इसी बीच अपना पांचवां वनडे शतक पूरा किया। राहुल के लिए यह खास पल था क्योंकि वह न्यू जीलैंड में 5वें या उससे नीचे के क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए शतक लगाने वाले दूसरे भारतीय बल्लेबाज बने।

उनसे पहले 2015 विश्व कप में सुरेश रैना ने जिम्बाब्वे के खिलाफ नाबाद 110 रनों की पारी खेली थी। राहुल हालांकि शतक लगाने के तुरंत बाद 269 के कुल योग पर आउट हुए। राहुल ने 113 गेंदों का सामना कर नौ चौके और दो छक्के लगाए। बेनेट ने 47वें ओवर की चौथी गेंद पर राहुल को आउट किया और फिर अगली ही गेंद पर उन्होंने पांडे को चलता कर दिया।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.