शिक्षकों की लॉकडाउन में जुर्माना वसूली में ड्यूटी : कोरोना में शिक्षकों की लगी अजब ड्यूटी…. लॉकडाउन के दौरान शिक्षकों की मिली नयी टाइप की जिम्मेदारी…..एक टीम में 2-2 शिक्षकों सहित 4 कर्मचारी होंगे…जानिये अब क्या होगी इनकी ड्यूटी

जांजगीर 24 सितंबर 2020। कोरोना काल में शिक्षकों की भी ड्यूटी अजब-गजब चल रही है। एक तरफ ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लास की जिम्मेदारी तो है हीं…इन सबके बीच कोरोना योद्धा के तौर पर भी उनकी अलग-अनूठी ड्यूटी लग रही है। कभी कोरोना मरीज का सर्वे, कभी स्वास्थ्य सर्वेक्षण, कभी चेकपोस्ट पर रखवाली तो अब जुर्माना वसूली के लिए शिक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी है। ये शिक्षक लॉकडाउन के दौरान अलग-अलग वार्ड में जाकर लॉकडाउन का पालन करायेंगे और बिना मास्क के घूमने और नियम तोड़ने वालों से जुर्माने की वसूली करेंगे। इस बाबत प्रशासन की तरफ से आदेश जारी कर दिया गया है।

आपको बदा दें कि जांजगीर जिले के नगरीय क्षेत्र में एक सप्ताह का लॉकडाउन लगने जा रहा है। 25 सितंबर से 1 अक्टूबर लगने वाले इस लॉकडाउन को लेकर बेहद ही सख्त गाइडलाइन जारी किये गये हैं। जांजगीर जिला के नगर पंचायत राहौद और खरौद के अलग-अलग वार्ड के लिए 2 शिक्षकों सहित 5 कर्मचारियों की 8-8 घंटे की ड्यूटी कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन का पालन कराने और बिना मास्क के घूमते लोगों से जुर्माना वसूली और कार्रवाई के लिए लगाया गया है।

सुबह 6 से 2 बजे से तक और दोपहर बाद 2 बजे से 10 बजे तक की अलग-अलग पालियों में शिक्षकों की 8-8 घंटे की ड्यूटी लगेगी। टीम में एक शिक्षक, एक सहायक शिक्षक के साथ-साथ पटवारी, कोटवार व स्वच्छता कमांडों रहेंगे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.