शिक्षकों के आंदोलन ने लिया आक्रामक रुख…. अब प्रदेश के सभी जिला में आंदोलन की तैयारी

बिलासपुर 17 अक्टूबर 2019। राजनांदगांव के सहायक शिक्षको के जबरिया ट्रांसफर करने तथा जिला शिक्षा अधिकारी की मनमर्जी और स्थानीय समस्याओ के अम्बार पर शासन की चुप्पी के विरोध में पूरा राजनांदगांव जिले के सहायक शिक्षक आंदोलन पर है। जिला अध्यक्ष शंकर साहू के अगुवाई में 16 नवम्बर से जारी आंदोलन 16 तारीख के रात को भी जारी रहा। आंदोलन की वजह से जिले के शिक्षको को ठंड में पूरी रात खुले आसमान में रात गुजारनी पड़ी। आंदोलनरत शिक्षकों को सड़क पर ही बैठकर भोजन करना पड़ा।

व्यथित और आक्रोशित होकर छग सहायक शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय संयोजक शिव सारथी,सीडी भट्ट,रंजीत बनर्जी,अश्वनी कुर्रे,अजय गुप्ता,बसन्त कौशिक,हुलेश चंद्राकर,संकीर्तन नन्द ने स्थानीय प्रशासन सहित शासन का भी कड़े शब्दों में निंदा की है और चेताया है कि अगर राजनांदगांव के सहायक शिक्षको का जबरिया ट्रांसफर निरस्त नहीं करने सहित अन्य स्थानीय मांगो का जल्द निराकरण नहीं किया गया तो पूरे प्रदेश में जिला स्तर पर धरना प्रदर्शन कर विरोध किया जाएगा जिसकी सारी जवाबदारी राजनांदगांव जिला शिक्षा अधिकारी हेमंत उपाध्यक्ष और जिला प्रशासन की होगी।

फेडरेशन के प्रांतीय संयोजकगणो ने इस मामले में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी हस्तक्षेप करने की अपील की है उन्होंने मुख्यमंत्री से अपील किया है कि राजनांदगांव के जिला कलेक्टर और जिला शिक्षाधिकारी को आदेश निर्देश जारी कर जल्द से जल्द शिक्षको की समस्या का निराकरण करे।

Get real time updates directly on you device, subscribe now.