comscore

शिक्षकों की अभी भी लग रही है अंतर्राज्यीय सीमा पर ड्यूटी…. दोपहर 2 बजे से रात 10 बजे तक के लिए किये गये हैं तैना

गौरेला-पेंड्रा-मरवारी 11 जून 2021। कोरोना काल में ड्यूटी के मामले में अगर किसी सरकारी कर्मचारी पर सबसे ज्यादा प्रयोग हुआ है तो वो शिक्षकों पर हुआ है। कभी कंट्रोल रूम में तो, कभी कोरोना टेस्टिंग में… कभी ट्रेसिंग में तो कभी बोर्डर पर..। गौरेला पेंड्रा मरवाही में शिक्षकों की ड्यूटी बोर्डर पर अभी भी लगायी जा रही है। जिला प्रशासन की तरफ से 8 जून दो शिक्षकों को अंतरराज्यीय सीमा पर ड्यूटी लगायी गयी थी, दो दिन बाद ही उनमें से एक शिक्षक का आदेश बदल दिया गया है।

ये शिक्षक सीमा से प्रवेश करने वाले गाडियों और आने वाले लोगों की सूचना एकत्रित करेंगे। पूर्व में भी इस संदर्भ में शिक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी थी, अब उसमें संशोधन करते हुए कुछ और शिक्षकों की ड्यूटी लगायी गयी है। 2 दिन पहले ही 8 जून को एक आदेश जारी कर पूर्व नियुक्त शिक्षकों के बदले नयी तैनाती की गयी थी। 8 जून को जारी आदेश में कोरजा माध्यमिक शाला के व्याख्याता नारायण सिंह पोर्ते की जगह पर कोरजा माध्यमिक शाला के व्याख्याता सौरभ सिंह और कोरजा के ही व्याख्याता महेश राम की जगह पर दिनेश सिंह चौहान की ड्यूटी लगायी गयीहै।

8 जून को जारी आदेश में सौरभ साहू को बोर्डर पर तैनात किया गया था, अब उनकी जगह पर धनौली माध्यमिक शाला के सहायक शिक्षक जितेंद्र केशरवानी को ड्यूटी में लगाया गया है। ये सभी दोपह 2 बजे से रात 10 बजे तक अंतर्राज्यीय सीमा पर तैनात रहेंगे।

Scan 10 Jun 2021 (2)
Spread the love