कर्मचारियों की खबर : इंक्रीमेंट पर रोक व वेतन कटौती जैसी मांगों को लेकर फेडरेशन ने की मुख्यमंत्री से मुलाकात….CM ने प्रतिनिधिमंडल से पूछा- कब होता है कर्मचारियों का हर साल इंक्रीमेंट….जवाब सुनकर… मुख्यमंत्री ने दिये ये आश्वासन……कर्मचारियों के लिए ये खबर सुकून भरी

रायपुर 5 जून 2020। इंक्रीमेंट पर रोक और वेतन में 30% की कटौती जैसी खबरों से बैचेन कर्मचारियों के लिए ये खबर सुकून वाली है। कर्मचारी संगठन से मुलाकात में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कर्मचारियों की मांगों पर सकारात्मक संकेत दिये हैं। गुरुवार की शाम छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन का एक प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मिला था। संयोजक कमल वर्मा के नेतृत्व में पहुंचे सदस्यों ने मुख्यमंत्री से प्रदेश के कर्मचारियों और अधिकारियों से जुड़े कई मुद्दों को लेकर चर्चा की। कर्मचारी-अधिकारी संगठन ने इंक्रीमेंट नहीं रोकने, वेतन में कटौती नहीं किये जाने, कोरोना वारियर्स कर्मचारियों को 50 लाख का बीमा लाभ देने सहित कई मांगों पर चर्चा की।

फेडरेशन ने वेतन वृद्धि रोकने संबंधी वित्त विभाग के आदेश तथा 30 प्रतिशत् वेतन कटौती को लेकर विस्तार से चर्चा की और इससे जुड़ी कर्मचारियों की चिंता से अवगत कराया। जिसके जवाब में राज्य शासन ने राजस्व की कमी का हवाला दिया। इस मसले पर फेडरेशन की तरफ से कहा गया कि “कोरोना संकट में कर्मचारी अधिकारी ने जो पिछले 2 माह में 1-1 दिन का वेतन दिया था, उसकी आधी राशि से ही वार्षिक वेतनवृद्धि कर्मचारियों का हो जायेगा” फेडरेशन ने मांग की, कि कर्मचारियों की वेतन कटौती ना की जाये, वहीं वेतन वृद्धि भी ना रोकी जाये। फेडरेशन ने मुख्यमंत्री से पूर्व में इस संदर्भ में जारी किये गये निर्देश को निरस्त करने की मांग की।

इस दौरान मुख्यमंत्री ने प्रतिनिधिमंडल से प्रश्न किया कि ,वेतन वृद्धि कर्मचारियों का हर वर्ष कब होता है, जिसके जवाब में फेडरेशन ने बताया कि हर साल जुलाई में इंक्रीमेंट होता है। मुख्यमंत्री ने इस जवाब के बाद कहा..कि अभी 4 जून ही है, जुलाई महीने में अभी वक्त है, इसलिए अभी चिंता मत कीजिये। 

फेडरेशन ने चर्चा के दौरान कोरोना ड्यूटी में लगे सभी अधिकारियों कर्मचारियों को अनुग्रह राशि राजस्थान सरकार की भांति रुपये 50 लाख स्वीकृत करने की मांग की। वहीं कर्मचारी संघों की मान्यता एक वर्ष के स्थान पर पंजीयक फर्म्स एंड सोसायटी द्वारा निर्धारित अवधि तक देने के लिए मांगपत्र सौंपा गया। मुख्यमंत्री ने इन मांगों पर आवश्यक कार्यवाही का आश्वासन दिया । मुलाकात के बाद प्रवक्ता विजय झा ने NPG से कहा कि

“हमारी कल शाम मुख्यमंत्री से मुलाकात हुई है, हमने कर्मचारियों की मांगों को लेकर उनसे बातें की है, खासकर वेतन वृद्धि पर रोक और वेतन कटौती जैसी मांगों पर विस्तृत चर्चा हुई है, मुख्यमंत्री ने हमलोगों से पूछा कि इंक्रीमेंट कब लगता है, जिसके बाद हमलोगों ने कहा कि 1 जुलाई से होता है..मुख्यमंत्री ने कहा कि अभी वक्त है, चिंता मत कीजिये”

 

 

प्रतिनिधि मण्डल में कमल वर्मा संयोजक, प्रवक्ता विजय कुमार झा, सहप्रवक्ता संजय सिंह, महामंत्री यशवंत वर्मा, अनु.जाति जनजाति संध के प्रांताध्यक्ष डाॅ. लक्ष्मण भारती शामिल थे।

 

 

Spread the love