SP-कलेक्टर की छुट्टी : मुख्यमंत्री ने दिखाये सख्त तेवर…..इमरजेंसी मीटिंग में कलेक्टर-एसपी की छुट्टी के दिये निर्देश…..SDOP को भी सस्पेंड करने के निर्देश, थाना प्रभारी भी हटाये गये

मुरैना 13 जनवरी 2021। जहरीली शराब मामले में मुख्यमंत्री ने बड़ा एक्शन लिया है। कलेक्टर-एसपी की मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद छुट्टी हो गयी है, वहीं SDOP को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। आज मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हाईलेवल मीटिंग बुलायी थी, जिसमें मुख्यमंत्री ने इस मामले में प्रथम दृष्टिया एसपी-कलेक्टर को इस मामले में गैर जिम्मेदाराना रूख पाया, जिसके बाद दोनों को हटाने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद कलेक्टर अनुराग वर्मा और एसपी अनुराग सुजानिया को हटा दिया गया है।

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के मुरैना में जहरीली शराब पीकर मरने वालों की संख्या लगातार बढ़ रही है. जहरीली शराब पीने से पिछले 24 घंटे में 8 और लोगों की मौत हो गई है. इसी के साथ जहरीली शराब पीने से मरने वालों की कुल संख्या 20 हो गई है.बता दें कि मुरैना के सुमावली थाना इलाके के पहावली गांव में 3 और बागचीनी इलाके के मानपुर गांव में 11 जनवरी को जहरीली शराब पीने से 7 लोगों की मौत हुई थी. इस घटना के सामने आने के बाद मुरैना से लेकर भोपाल तक हड़कंप मच गया.

पिछले 24 घंटे में जहरीली शराब का काल 8 और लोगों को निगल गया. इस मामले में कार्रवाई करते हुए गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया और जांच दल गठित कर दी. गृहमंत्री ने कहा कि कोई भी दोषी होगा, चाहे वह कितना भी बड़ा हो उसे छोड़ा नहीं जाएगा.

सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट करके कहा कि, ‘मुरैना की बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और दुखदायी घटना है. मामले की जांच जारी है, लेकिन प्रथम दृष्टया सुपरविजन में लापरवाही करने पर डिस्ट्रिक्ट एक्साइज अफसर को सस्पेंड किया गया है. जांच के बाकी तथ्य जैसे ही आयेंगे, जो भी दोषी होंगे, वो छोड़े नहीं जायेंगे. हम कठोर कार्रवाई करेंगे.’

प्रशासन ने इस मामले में बागचीनी थाना प्रभारी सहित बीट प्रभारियों को भी निलंबित किया है. इसके अलावा मुरैना आबकारी जिला अधिकारी को भी निलंबित कर दिया गया है. मृतक परिजनों की मांग पर पुलिस ने आरोपियों की संख्या 4 से बढ़ाकर 7 कर दी है.

कौन है कलेक्टर अनुराग वर्मा

2012 बैच के IAS अनुराग वर्मा पिछले साल अगस्त 2020 में मुरैना कलेक्टर बने थे। इससे पहले वो हरदा में कलेक्टर थे। मुरैना कलेक्टर अनुरूग वर्मा मुरैना के जिला पंचायत सीईओ भी रह चुके हैं। वो सागर नगर निगम के कमिश्नर भी रह चुके हैं।

कौन हैं एसपी अनुराग सुजानिया

2014 बैच के IPS अनुराग सुजानिया जून 2020 में मुरैना के एसपी बने थे। वो कुछ समय पहले मुरैना के एडिश्नल एसपी थे, जिसके बाद उन्हें टीकमगढ़ का एसपी बनाया गया था। उन्हें दूसरे जिले के तौर पर मुरैना का एसपी बनाया गया है।

Spread the love